अनीता जाटव ने मशरूम की खेती कर आय का साधन बनी "खुशियों की दास्तां 
 


डबरा।मध्यप्रदेश-डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन एवं आत्मा परियोजना के सहयोग से डबरा जनपद पंचायत की ग्राम समूदन निवासी श्रीमती अनीता जाटव पत्नी रामबरन जाटव बहुत ही गरीब घरानेे से हैं उनको समूह केेे माध्यम से जागरुक हो  कर  मशरूम की खेती की।  और खेती से प्रतिदिन 150 से 200 रूपए की आय हो रही है। यह मशरूम की खेती इनकी आय का साधन बनी है।    श्रीमती अनीता जाटव ने मध्यप्रदेश-डे राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन ग्वालियर एवं आत्मा परियोजना के सहयोग से अपने मकान के 100 वर्गफुट के एक कमरे में “आयस्टर मशरूम” के 100 बैगों में मशरूम की खेती शुरू की, जिस पर कुल लागत 5 हजार रूपए आई। जो ऋण सहायता के रूप में समूह से प्राप्त हुई। मशरूम की खेती से प्रतिदिन 5 से 20 किलोग्राम तक उत्पादित हो रहा है। यह मशरूम 150 रूपए प्रतिकिलो के भाव से स्वयं टेकनपुर की हाट में “कंचन मशरूम” के नाम से विक्रय कर रही हैं। जबकि संभागीय हाट बजार ग्वालियर में भी मशरूम को मार्केट मिल रहा है। इस प्रकार मशरूम उत्पादन से श्रीमती अनीता को प्रतिदिन 150 रूपए 200 रूपए की आय हो रही है।श्रीमती अनीता जाटव ने बताया कि उसने दो वर्षों से आजीविका मिशन द्वारा संचालित स्वयं सहायता समूहों से जुड़कर मशरूम की खेती करना शुरू किया। इसके पहले आत्मा परियोजना के माध्यम से मशरूम उत्पादन का प्रशिक्षण लिया। मशरूम प्रोटीन से भरपूर एवं वसा रहित खाद्य पदार्थ है। इनका उपयोग सब्जी, पकौड़े आदि बनाने में किया जाता है



Comments
Popular posts
डंपर की चपेट में आने से कमलसिंह उसकी मौत पीछे बैठी केला देवी पत्नी कमल सिंह कुशवाहा गंभीर रूप से घायल लगाया जाम प्रशासन अधिकारी व पूर्व मंत्री, आजाद समाज पार्टी कांशीराम के पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे दिलाया आर्थिक सहायता ।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों को भेंट की डा भीमराव अम्बेडकर जी की भीम आर्मी ने तस्वीर ,तो अधिकारी ने तस्वीर पर जूते पहनकर किया माल्यार्पण हैरान रह गए भीम आर्मी के सदस्य ,यह अधिकारी ने किया गलत ---- महाराज राजौरिया
Image
पेट का दर्द दिखाने महिला डॉक्टर को मुरार सरकारी हॉस्पिटल में गई तो डाक्टर ने प्रेगनेंसी के बारे में पूछा लिया कब से हो प्रेग्नेंट युवती जवकि अनमैरिड है युवती ने प्रेगनेंट बारे में केसे पुछा और विरोध किया तो महिला डाक्टर ने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज की जांच शुरू । इस मामले को लेकर बड़े बड़े मीडिया ने महिला डाक्टर का वचव पछ छापा गया।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों ने मिलकर हटाई वर्षों से लगी डा भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर ।
Image
प्रदेश में अनुसूचित-जाति वर्ग की छात्राओं के लिये 10 छात्रावासों की मंजूरी ।
Image