संगीत सम्राट तानसेन के कारण ग्वालियर की पहचान है विश्व पटल पर – खाद्य मंत्री श्री तोमर “तानसेन समारोह-2019”

 

















संगीत सम्राट तानसेन के कारण ग्वालियर की पहचान है विश्व पटल पर – खाद्य मंत्री श्री तोमर “तानसेन समारोह-2019”
पूर्वरंग “गमक” कार्यक्रम में गजल गायक तलत अज़ीज़ की प्रस्तुति ने बांधा समा
ग्वालियर |

 




विश्व संगीत समागम “तानसेन समारोह-2019” की पूर्व संध्या पर पूर्वरंग “गमक” का आयोजन इंटक मैदान हजीरा पर आयोजित हुआ। कार्यक्रम में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के गजल गायक तलत अजीज़ ने अपनी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के मुख्य आतिथ्य में हुआ। इस मौके पर संभागीय आयुक्त एवं स्थानीय तानसेन समिति के अध्यक्ष श्री एम बी ओझा, उस्ताद अलाउद्दीन संगीत अकादमी के निदेशक श्री अखिलेश वर्मा, नेता प्रतिपक्ष श्री कृष्णराव दीक्षित, पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष श्री अशोक शर्मा, जनप्रतिनिधि श्री बालखाण्डे, श्री केशव पाण्डे, श्री अशोक प्रेमी सहित जनप्रतिनिधि और बड़ी संख्या में संगीत प्रेमी उपस्थित थे।प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि संगीत सम्राट तानसेन के कारण ग्वालियर की पहचान विश्व पटल पर है। तानसेन की संगीत साधना के कारण ही इतन वर्षों बाद भी ग्वालियर में तानसेन समारोह में तानसेन के संगीत की झनकार सुनाई देती है। उन्होंने कहा कि तानसेन समारोह को अगले वर्ष से और भव्यता के साथ आयोजित किया जायेगा। ग्वालियर तानसेन समारोह की गूँज न केवल मध्यप्रदेश में बल्कि पूरे राष्ट्र में हो, ऐसे प्रयास किए जायेंगे।खाद्य मंत्री श्री तोमर ने कहा कि ग्वालियर की पहचान संगीत नगरी के रूप में भी है। यहां के युवाओं को संगीत में पारंगत बनाने के लिए सरकार ने संगीत विश्वविद्यालय भी संचालित किए हुए हैं। युवाओं को चाहिए कि वे संगीत में अपनी रूचि बढ़ाएं और अपने परिवार, शहर और देश का नाम रोशन करें। मंत्री श्री तोमर ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि इतने बड़े कलाकारों का सम्मान करने का अवसर मुझे मिल रहा है।खाद्य मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा कि ग्वालियर वासियों को यह सौभाग्य मिला है कि तानसेन समारोह के माध्यम से हम देश और दुनिया में अपना नाम कमाने वाले बड़े-बड़े संगीतकारों को यहां पर सुन पाते हैं। उन्होंने कहा कि ग्वालियर के प्रत्येक नागरिक का यह दायित्व है कि वह तानसेन समारोह में पधारे कलाकारों को सुनें और उनका हौसला अफजाई करें। मंत्री श्री तोमर ने इस मौके पर यह भी कहा कि तानसेन की नगरी ग्वालियर को स्वच्छ, सुंदर और प्रदूषण मुक्त रखने का दायित्व भी शहर के हर नागरिक का है। शहर के हर नागरिक को ग्वालियर को स्वच्छ बनाने की दिशा में अपना योगदान देना चाहिए।



    कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों ने दीप प्रज्ज्वलित कर पूर्वरंग “गमक” का शुभारंभ किया। मंत्री श्री तोमर ने विख्यात गजल गायक तलत अजीज़ का पुष्प-गुच्छ भेंट कर स्वागत किया।

“रात है या बारात फूलों की” गजल से कार्यक्रम की शुरूआत

    विख्यात गजल गायक श्री तलत अजीज ने “गमक” कार्यक्रम की शुरूआत “रात है या बारात फूलों की” गजल से की। उनकी प्रस्तुति सुनकर श्रोता झूम उठे। उन्होंने कार्यक्रम में अनेक गजल प्रस्तुत की, जिसका गजल प्रेमियों ने भरपूरआनंद लिया





 


 


 


 


 


Comments
Popular posts
डबरा।विद्युत विभाग की लापरवाही एक महीने में उपभोक्ता को तीन बार दिया विल अधिकारी कर्मचारी मचा रहे हैं भ्रष्टाचार अधिकारीयो पर इंटेलिजेंट नहीं दे रही ध्यान।
Image
दतिया। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने ग्राम पालीनूर को दी करोड़ों की सौगातें हर हफ्ते अपनी विधानसभा क्षेत्र को देते हैं विकास कार्य की सौगात, गृह निवास में कोई विकास नहीं घोषणा मात्र।
Image
करैरा।लखीमपुर में हुई किसानों की मृत्यु होने पर उसके परिजनों से मुलाकात करने प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस द्वारा बंद करने के विरोध में धरना दिया राष्ट्रपति, केंद्रीय गृहमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।
Image
डबरा।भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी के कोरोना रक्षक सम्मान पत्र समारोह सम्पन्न ।
Image
डबरा।बाढ़ पीड़ितों के लिए पत्रकारों ने की पहल दिया 1 माह का वेतन ।
Image