रणवीर शौरी को ‘सोनचिड़िया ’ के लिए 'सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता' का ६५वें अमेज़ोन फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार में नामांकन मिला ।


रिपोर्ट : के .रवि ( दादा ) 


मुंबई।अत्याधुनिक सिनेमा में अपनी  मौजुदगी के लिए पहचाने जाने वाले अभिनेता रणवीर शौरी एक  उत्कृष्ट अभिनेता है, जो बिना किसी तनाव के हर पात्र को सहजता से निभाते है मानो उन्होंने उस चरित्र को जिया है। ऐसे निपुण अभिनेता रणवीर शौरी को हाल ही में ६५वें अमेज़ोन फिल्मफेयर अवार्ड्स में अभिषेक चौबे की सोनचिड़िया के  वकिल सिंह की भूमिका के लिए  सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता ’नामांकन मिला। अपने करियर के सबसे यादगार प्रदर्शनों में से एक रणवीर शौरी को जिस चरित्र के बड़े पैमाने पर तैयार किया था। इस बारे मैं बताते हुए कहा, “मुझे बहुत खुशी है कि सोनचिड़िया को समीक्षक की पसंद के अनुभाग में फिल्मफेयर पुरस्कार के लिए नामांकन मिला है। और मुझे खुशी है कि फिल्म को वह पहचान मिल रही है जिसकी वह हकदार थी। जो भले ही बॉक्स ऑफिस पर उतना कमाल नही कर पाई।  मैं उतना ही खुश हूँ कि मुझे सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता की श्रेणी में मुझे नामांकित किया गया है। यह मेरे लिए एक सुखद आश्चर्य है, लेकिन उससे  बढ़कर मैं सोनचिड़िया के पक्ष में हूं क्योंकि यह एक ऐसी फिल्म है जिस पर मुझे बहुत गर्व है और हमेशा रहेगा। "


इस साल और हमेशा की तरह फिल्मफेयर अवार्ड्स बॉलीवुड के बेहतरीन कौशल और प्रतिभा को  सम्मानित करेंगे। सोनचिड़िया, गली बॉय, आर्टिकल१५, कबीर सिंह, मर्द को दर्द नही होता, और वॉर जैसी फिल्मों के साथ प्रतिष्ठित पुरस्कार के लिए भव्य समारोह में शामिल हैं ।


पुरस्कार और प्रशंसा क्या यह महत्व रखते? इस बारे में पूछे जाने अभिनेता ने चुटकी लेते हुए कहा "मुझे लगता है कि वे उन लोगों के लिए जीने को ज़्यादा मिलता हौ, जैसे  की जो जीवन में सब कुछ पसंद करते हैं!" रणवीर शौरी ने हाल ही में दादासाहेब फाल्के फिल्म फाउंडेशन अवार्ड्स में भी इस फ़िल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता (पुरुष) और गोल्ड अवार्ड्स मैं मेट्रो पार्क के लिए बेस्ट एक्टर कॉमेडी (पुरुष)  आईएफईएफएए, ऑस्ट्रेलिया में तितली के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार (क्रिटिक चॉइस) जीता है। आइकॉनिक अचीवर्स अवार्ड में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार से सम्मानित किया गया हैं। “पुरस्कार और प्रशंसा का परिस्थिति की तंत्र में अपना स्थान है, और मेरे लिए भी, वे एक विशेष स्थान रखते हैं। पहचाना जाना अच्छा लगता है, और विशेष रूप से तब जब चुनाव दर्शको की तरफ से हो या समीक्षकों की चुनाव से हो। लेकिन पुरस्कार सब कुछ नहीं हैं, एक के रूप में काम है जो सबकुछ है “ अभिनेता ने हुए।


रणवीर शौरी के अलावा, दिलजीत दोसांझ को उनकी फिल्म गुड़ न्यूज़ के लिए, गुलशन देवैया को मर्द को दर्द नही होता के लिए, मनोज पुवा को आर्टिकल १५ के लिए, सिद्धार्थ चतुर्वेदी और विजय वर्मा को गली बॉय के लिए ६५वे  अमेज़ोन फ़िल्मफ़ेअर अवार्ड्स २०२० की श्रेणी में नामांकित है। १५ फरवरी २०२० को आसाम में आयोजित किया गया जाएगा है।


Comments
Popular posts
स्मार्ट सिटी के तारामंडल में शहरवासी कर सकेगे आकाशगंगा की सैर -श्रीमती जयति सिंह
Image
प्रदेश में अनुसूचित-जाति वर्ग की छात्राओं के लिये 10 छात्रावासों की मंजूरी ।
Image
पेट का दर्द दिखाने महिला डॉक्टर को मुरार सरकारी हॉस्पिटल में गई तो डाक्टर ने प्रेगनेंसी के बारे में पूछा लिया कब से हो प्रेग्नेंट युवती जवकि अनमैरिड है युवती ने प्रेगनेंट बारे में केसे पुछा और विरोध किया तो महिला डाक्टर ने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज की जांच शुरू । इस मामले को लेकर बड़े बड़े मीडिया ने महिला डाक्टर का वचव पछ छापा गया।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों को भेंट की डा भीमराव अम्बेडकर जी की भीम आर्मी ने तस्वीर ,तो अधिकारी ने तस्वीर पर जूते पहनकर किया माल्यार्पण हैरान रह गए भीम आर्मी के सदस्य ,यह अधिकारी ने किया गलत ---- महाराज राजौरिया
Image
डाक विभाग के अधिकारियों ने मिलकर हटाई वर्षों से लगी डा भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर ।
Image