पूर्व जिला सीओ बन सकते हैं ग्वालियर नये डीएम, राजनेता एवं वरिष्ठ अधिकारी बनेंगे रोरा वर्मा डीएम नहीं बनाऐ जाऐ ..सूत्र

ग्वालियर।मध्यप्रदेश में सत्ता परिवर्तन के साथ ही प्रदेश में प्रशासनिक अधिकारियों के फेर बदल का सिलसिला शुरू हो गया है। भारतीय जनता पार्टी के सत्ता में आने  के बाद मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में सरकार के गठन के बाद पूर्व सरकार द्वारा पदस्थ किए गए अधिकारियों को बदलने एवं अपने विश्वनीय अफसरों को पोस्टिंग करने की कवायद शुरू कर दी गई है।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ग्वालियर कलेक्टर अनुराग चौधरी के तबादले के बाद कौशलेंद्र विक्रम सिंह को नया कलेक्टर बनाया गया था, परन्तु सत्ता परिवर्तन के साथ ही बदलाव की बयार की सुगबुगाहट शुरू हो गई है। राजनेतिक गलियारों में चर्चा का विषय है कि ग्वालियर के नए कलेक्टर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के पसंदीदा जिला ग्वालियर शिवराज वर्मा हो सकतें हैं बताया जाता है कि भाजपा सरकार के समय जिला ग्वालियर में जिला पंचायत में जिला सीओ के पद पर रहे कर सभी पंचायतों शिक्षा विभाग एवं अन्य विभागों को सही तरीके से उनकी कार्ययोजना को पहचान बरकरार रखने में सहायक रहे हैं और जनता के बीच हमेशा चर्चा में खुश रहकार जनता हित में कार्य किया  जनता की आवाज बने।


टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर।चयनित शिक्षक संघ वर्ग एक के शिक्षकों ने दिया कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष पटवारी को ज्ञापन
चित्र
जिला ग्वालियर आयुष अधिकारी ने किया वेलनेस सेंटर का औचक निरीक्षण जांचा पंजी रजिस्टर कई सालों से आयुष प्रभारी पदस्थ हैं सेंटर पर उसी गांव के रहने वाले हैं राजनीतिक नेताओं से संपर्क होने से सेंटर प्रभारी इसलिए करते मनमानी।
चित्र
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
महान समाज सेवक संत गाडगे बाबा की पुण्य तिथि पर विशेष
चित्र
मुख्यमंत्री मोहन यादव के राज्य में अधिकारियों के हौसले बुलंद एसडीएम ने पैरों में जूते पहनने के बाद महिला से जूते के लेंस बंधवाते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो फोटो वायरल इससे लगता है मनुस्मृति शूरू हो रही है।
चित्र