ग्वालियर।दस दिन से घर घर पहुंचा रही है बेसहारा गरीब मजदूरों को  खाने पैकेट।एस आई सुश्री प्रतिभाश्रीवास्तव
ग्वालियर।दस दिन से घर घर पहुंचा रही है बेसहारा गरीब मजदूरों को  खाने पैकेट।एस आई सुश्री प्रतिभाश्रीवास्तव

 


ग्वालियर।घर घर बेसहारा गरीब मजदूरों को उनके परिवारजनों को दस दिन से लगातार खाने के पैकेट पहुंचा रही हैं एस आई सुश्री प्रतिभाश्रीवास्तव कोरोनावायरस संक्रमण के बचावके लिये पीएम द्वारा कियाजा रहे लॉकडाउन के दौरान गरीबों के पास काम नहीं है। गरीबों के भूखे रहने की स्थिति में विश्वविद्यालय थाने में पदस्थ एस आई सुश्री प्रतिभा श्रीवास्तव  ने लगातार सुबह और शाम को लगभग  पैकेट प्रतिदिन कलेक्ट्रेट , विश्वविद्यालय थाने के आसपास ग्वालियर के इलाके में तीन न सौ पैकेट और जिला प्रशासन,  पुलिस अधीक्षक नवनीत भासीन, एडीशनल एसपी, थानाप्रभारी के अनुरोध पर बताये गये इलाकों में 300 पैकेट अपनी टीम के साथ पैकेट बांट रही हैं। सुश्री प्रतिभा श्रीवास्तव बताया था थाना क्षेत्र के सीमावर्ती इलाके में बाहर  के जिले से मजदूरी करने के लिए शहर ग्वालियर में आते थे लोकडाउन की बाजह से आपने घरों को नहीं जा पाते और यह पर जो हर रोज मेहनत मजदूरी कर अपना परिवार का पेट भर रहे थे ऐसे लोगों को पुलिस टीम खाना बांटने काम कर रही है और लोगों को समझने का भी काम रही है कि बुखार ज़ुकाम गले में खराश खांसी हो तो डाक्टर को दिखाऐ । गरीब परिवार के लिऐ खाने के लिये लाते हैं  लाकडाउन की बजाए से झुग्गियों में रह रहे हैं ऐसे लोगों को पुलिस की टीमें खाना बांट रही है जिससे कोई मजदूर गरीब बेसहारा लोग भूखे पेट नहीं सोये। जह हमारे थाना क्षेत्र में हम लोग लागे हुए हैं और जव तक लागे रहेंगे जव लाकडाउन नहीं खुलता और लोग मजदूर मजदूरी करने नहीं जाता। 



टिप्पणियाँ
Popular posts
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
मुख्यमंत्री मोहन यादव के राज्य में अधिकारियों के हौसले बुलंद एसडीएम ने पैरों में जूते पहनने के बाद महिला से जूते के लेंस बंधवाते हुए सोशल मीडिया पर वीडियो फोटो वायरल इससे लगता है मनुस्मृति शूरू हो रही है।
चित्र
महान समाज सेवक संत गाडगे बाबा की पुण्य तिथि पर विशेष
चित्र
जिला ग्वालियर आयुष अधिकारी ने किया वेलनेस सेंटर का औचक निरीक्षण जांचा पंजी रजिस्टर कई सालों से आयुष प्रभारी पदस्थ हैं सेंटर पर उसी गांव के रहने वाले हैं राजनीतिक नेताओं से संपर्क होने से सेंटर प्रभारी इसलिए करते मनमानी।
चित्र
ग्वालियर।पूर्व डीजीपी यादव की नातिन की हत्या के छह बाल संप्रेक्षण गृह से आरोपी भागे।
चित्र