ग्वालियर।अनुसूचित जाति के आरटीआई कार्यकर्ता को सरपंच व सरपंच पति तथा बेटो ने बंधक बनाकर पेशाब पिलाई मारपीट की शशीकांत जाटव की पत्नी बचाने पहुंची तो उससे भी अभद्र व्यवहार किया।
 ग्वालियर।बरई मे कार्यकर्ता के साथ अमानवीयता की सारी हदें पार कर दी गयीं।पंचायत सचिव और सरपंच व सरपंच के पति बेटे सहित अन्य लोगों ने कार्यकर्ता की  शरिया, डंडे, जूतों बंदूक के बट से पिटाई की गई और फिर जूते में भरकर पेशाब पिलाई गई। पिटाई के कारण बुरी तरह जख्मी कार्यकर्ता गंभीर हालत में दिल्ली के एम्स में भर्ती है उसकी हालत गंभीर बनी हुई है इस जुल्म की वजह सिर्फ ये थी कि कार्यकर्ता ने ग्राम पंचायत से संबंधित कोई जानकारी मांग ली थी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।ग्वालियर जिले में ग्राम पंचायत से संबंधित जानकारी मांगने पर एक अनुसूचित जाति के युवक की जमकर पिटाई की गयी और जूते में भरकर यूरिन पिलाई गई। पिटाई में कार्यकर्ता को इतनी पैरों व हाथों में गहरी चोटें आई हैं कि उसे गंभीर हालत में दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया है। घटना पनिहार थाना के बरही गांव की है। शशीकांत जाटव की पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने सरपंच,सरपंच पति, सचिव सहित सात लोगों के खिलाफ मारपीट और अनुसूचित जाति जनजाति उत्पीड़न का केस दर्ज कर लिया हैआरटीआई कार्यकर्ता का नाम शशीकांत जाटव है 33 वर्षीय शशीकांत ने बरई ग्राम पंचायत में आरटीआई लगाकर महत्वपूर्ण जानकारी मांगी थी।आरटीआई लगाते ही बरई पंचायत में हड़कंप मच गया  सरपंच के पति, पंचायत सचिव ने 23 फरवरी के दिन शशिकांत को ग्राम पंचायत कार्यालय में बुलाया। सबने मिलकर उन्हें एक कमरे में बंद कर दिया और आरोप है कि फिर करीब सात लोगों ने शशिकांत को बेरहमी से पीटा। पिटाई के दौरान जातिवादी गाली गलौच भी की गयी।शशिकांत की पत्नी ने बताया कि मारपीट के दौरान आरोपियों ने शशिकांत को जूते में भरकर पेशाब पिलायी गयी। पिटाई में घायल होने के बाद शशिकांत को ग्वालियर के जयारोग्य अस्पताल में भर्ती कराया गया। हालात ज्यादा गंभीर होने पर दिल्ली के एम्स में शिफ्ट करना पड़ा।पनिहार पुलिस ने घायल आरटीआई कार्यकर्ता शशिकांत की शिकायत पर सात आरोपियों के खिलाफ हत्या की कोशिश, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम में केस दर्ज किया है. आरोपियों में बरही की आशा कौरव, संजय कौरव, धामू, भूरा, गौतम, विवेक शर्मा और सरनाम सिंह शामिल हैं।पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बताया कि शशिकांत को इलाज के लिए दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है।घटना के दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हालत गंभीर होने के कारण शशिकांत के बयान अभी नहीं हो पाए हैं।बयान दर्ज करने के लिए जांच अधिकारी को दिल्ली भेजा दिया है।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर(एम एस बिशौटिया संपादक)फूल सिंह बरैया की बेटी की शादी का अनोखा कार्ड चर्चा में।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र