भोपाल। राजा भोज विमान में हवाई अड्डा समिति की बैठक मे प्रमुख सचिव गृह डा राजौरा ने दिये निर्देश ।

अपर मुख्य सचिव गृह डाॅ. राजेश राजौरा ने राजा भोज विमान-ताला में हवाई अड्डा समिति की पहली छह महीने की बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने हवाईअड्डा प्राधिकरण और अन्य संबंधित अधिकारियों को अपहरण की किसी भी स्थिति से निपटने के लिए चौबीसों घंटे सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। नियमित मॉक-ड्रिल के लिए प्रतिक्रिया समय कम करें, ताकि समय पर उचित व्यवस्था की जा सके। बैठक में गृह सचिव श्री गौरव राजपूत, पुलिस उपायुक्त जोन-4 श्री विजय खत्री,हवाईअड्डा निदेशक श्री अमृत मिंज, डीजीएम एटीसी श्री महेशचंद्र अग्रवाल सहित पुलिस प्रशासन एवं सुरक्षा एजेंसियों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे एसीएस डॉ. राजौरा ने एयरपोर्ट अथॉरिटी के अधिकारियों से कहा कि आपात स्थिति के लिए एयरपोर्ट का यूजर फ्रेंडली ब्लू प्रिंट कंट्रोल रूम के पास होना चाहिए। इसका इस्तेमाल सुरक्षा एजेंसियां ​​कम समय में स्थिति को नियंत्रित करने के लिए कर सकती हैं। उन्होंने एयरपोर्ट अथॉरिटी को यूजर फ्रेंडली ब्लूप्रिंट तैयार करने के निर्देश दिए। डॉ। राजौरा ने कम से कम समय में जिम्मेदार अधिकारियों को आपात स्थिति की जानकारी उपलब्ध कराने के लिए एक तंत्र स्थापित करने को कहा है। उन्होंने कहा कि इसके लिए वरिष्ठ अधिकारियों के साथ अधीनस्थ अधिकारियों के टेलीफोन नंबर कंट्रोल रूम के पास होने चाहिए. इससे आपात स्थिति की सूचना जिम्मेदार अधिकारियों तक शीघ्रता से पहुंच सकेगी और नियंत्रण के लिए आवश्यक कदम उठाने में भी मदद मिलेगी डॉ बैठक में राजौरा ने हवाईअड्डा क्षेत्र की सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत करने, चारदीवारी बनाने, हवाईअड्डे के 20 किलोमीटर क्षेत्र में निर्माण कार्य परमिट और विमान के फर्श के संबंध में दिशा-निर्देशों का सख्ती से पालन करने के लिए एप्रोच लाइटिंग सिस्टम को ठीक करने को भी कहा. ऑल इंडिया रेडियो सेंटर, रक्षा विहार और मनुभान टेकरी जैसे अवरोधों पर बाधा लाइट लगाने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने को कहा गया है डॉ राजौरा ने भोपाल हवाईअड्डे के प्रवेश द्वार से लेकर राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) को क्षेत्र को नो पार्किंग जोन घोषित करने, भारत स्काउट एवं गाइड क्षेत्र की भूमि की सुरक्षा के संबंध में राज्य हैंगर की सुरक्षा के संबंध में आवश्यक निर्देश दिये. बैठक में हवाईअड्डा क्षेत्र में जानवरों की घुसपैठ, पक्षी धमकी, गर्म हवा के गुब्बारे, माइक्रो लाइट एयरक्राफ्ट परमिट के साथ-साथ ड्रोन के इस्तेमाल को नियंत्रित करने पर भी विस्तार से चर्चा हुई। डॉ। राजौरा ने एयरपोर्ट अथॉरिटी के साथ-साथ पुलिस, जिला प्रशासन और नगर निगम के अधिकारियों को बेहतर तालमेल से काम करने के निर्देश दिए और सार्वजनिक रूप से पालन करें।

टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा। पुलिस ने गुंडों के खिलाफ चलाया विशेष अभियान , पुलिस शराब की दुकान के सामने खड़ी करें डायल 100 जिससे शराबियों में भी रहेगा पुलिस का खौफ अपराधो पर लगेगा प्रश्न चिन्ह।
चित्र
भोपाल।शिकायतों के आधार पर हटेंगे कर्मचारी तीन वर्ष से एक ही स्थान पर जमे हैं अफसरों के तबादले पर चुनाव आयोग की राहत।
चित्र
ग्वालियर।(9425734503) बहुजन समाज के हितों की लड़ाई के लिए हुआ समतामूलक समाज पार्टी किया गठन, बने राष्ट्रीय अध्यक्ष डा रावण वर्मा ।
चित्र
तनुश्री दत्ता ने आज कंहा नाना पाटेकर मतलब दुसरा आसाराम बापू । रिपोर्ट : के.रवि ( दादा ) 
चित्र
दतिया।दतिया का विकास का रथ अब नहीं रुकेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान, मुख्यमंत्री जी ने रचा इतिहास --डा मिश्रा।
चित्र