मुरैना। दोगुना किसानों की आय बढ़ाने का महायज्ञ है - मुख्यमंत्री श्री चौहान
 मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि मेला किसानों का भाग्यविधाता साबित होगा नई कृषि टेक्नोलॉजी के माध्यम से किसान अपने आपको मजबूत करें - केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री  तोमर।

मुरैना ।मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि चंबल संभाग के मुरैना में आयोजित 3 दिवसीय किसान प्रशिक्षण सम्मेलन नहीं है, बल्कि किसानों की आय को दोगुना बढ़ाने का महायज्ञ है। इस महायज्ञ में चंबल-ग्वालियर संभाग से आये किसान आधुनिक उन्नत टेक्नोलॉजी का उपयोग करके अपनी आय को बढ़ायें। यह प्रशिक्षण मेला किसानों का भाग्य विधाता साबित होगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को मुरैना जिले के डाॅ.भीमराव अंबेडकर स्टेडियम में आयोजित तीन दिवसीय किसान प्रशिक्षण, वृहद कृषि मेला और प्रदर्शनी के शुभारंभ अवसर पर मुख्य अतिथि बतौर बोल रहे थे। कन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि नई कृषि टेक्नोलॉजी के माध्यम से किसान अपने आपको मजबूत करेंगे। किसान प्रशिक्षण की अध्यक्षता केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री एवं मुरैना श्योपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने की। तीन दिवसीय इस प्रशिक्षण में 33 हजार किसान शामिल हो रहें है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आयोजित तीन दिवसीय कृषि प्रशिक्षण खेती और किसानों के लिये महायज्ञ है। इससे कृषि की आधुनिक तकनीक को किस तरह विकसित किया है एवं किसान इससे किस तरह से लाभ प्राप्त कर सकते हैं यह बताने के लिये यह आयोजन है। उन्होंने कहा कि उन्नत खेती के लिये देश में जितनी भी तकनीक और मशीनें हैं वह इस मेले में मौजूद हैं, इनका उपयोग कैसे किया जा सकता है। इसे समझाने वाली जानकारी के लिये कृषि विशेषज्ञ भी यहां मौजूद हैं। इसके लिये किसानों की कक्षायें लगाने का प्रबंध भी मेला में किया है। जिस किसान को उन्नत आधुनिक कृषि के लिये जो भी सीखना है, वे अलग-अलग कक्षाओं में जाकर प्रशिक्षण एवं जानकारियां प्राप्त कर सकते है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उपलब्धियां बताते हुये कहा कि चंबल नहर तो पहले भी थी लेकिन उसमें पानी नहीं आता था। हमने नहर को पक्का कर भिण्ड जिले के अंतिम छोर तक पानी पहुंचाया। उन्होंने कहा कि 45 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई की जा रही है, इसको बढ़ाकर 65 लाख हेक्टेयर में सिंचाई हो इसके प्रयास जारी हैं। प्रदेशभर सहित चंबल ग्वालियर संभाग में कई छोटी बड़ी सिंचाई परियोजनायें पूर्ण हो चुकी हैं। कुछ शुरू की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि 539 करोड़ रूपये की चेटीखेड़ा परियोजना जल्द स्वीकृत करेंगे। श्योपुर जिले में 414 करोड़ की मंजूरी डेम परियोजनाओं के अलावा अंचल की बिजरौली, रिठाला व गुडाला स्टापडेम नवलपुरा, गोदाबली, बड़ौदा पातालगढ़, पार्वती डेम, मजरी, सनघटा, बघेलरानी, कटेकरा, हरजन बसई रानी बृगंवा, कनावट आदि जगहों पर जल संरचनाओं पर काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार 16 फीसदी ब्याज पर किसानों को ऋण देती थी, हम जीरो फीसदी पर कृषि लोन देते हैं। जो देश में कहीं नहीं है। छोटे किसानों को हमारे प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में 6 हजार रूपये और प्रदेश सरकार उसमें 4 हजार रूपये जोड़कर 10 हजार रूपये प्रतिवर्ष की सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार के निर्णय के अनुसार अब समर्थन मूल्य पर गेहूं 2 हजार 125 रूपये प्रति क्विंटल खरीदा जायेगा। जिसके लिये प्रधानमंत्री जी को धन्यवाद दिया। साथ ही बताया कि प्राकृतिक आपदा की स्थिति में फसलें खराब होने पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत किसानों को मुआवजा दिया जा रहा है। मध्यप्रदेश में इस स्कीम के तहत 7 हजार 618 करोड़ रूपये किसानों के खातों में डाले गये है। उन्होंने इस अवसर पर किसानों को प्राकृतिक परंपरागत खेती को अपनाने पर जोर देते हुये कहा कि आधुनिक मशीनों को खेती में अपनायें। शेष पेज-2 2 उन्होंने 5 एकड़ तक के छोटे किसानों को सलाह दी कि 5 एकड़ में से ढ़ाई एकड़ में प्राकृतिक खेती को अपनायें। मुख्यमंत्री ने पराली नरवाई के लिये कस्टम हायरिंग मशीन के उपयोग करने पर जोर देते हुये कहा कि इस मशीन के उपयोग से पशुओं को भूसा मिल सकेगा तथा खेती की उर्वरा शक्ति भी खत्म नहीं होगी। मुख्यमंत्री ने कहा यह मशीन छोटे किसानों को 50 प्रतिशत पर दी जा रही है, वहीं बड़े किसानों को 40 प्रतिशत अनुदान पर उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि जो किसान उन्नत कृषि यंत्र नहीं खरीद सकते हैं, उनके लिये कस्टम हायरिंग सेंटर बनाये जा रहे हैं। यह काम बेरोजगार युवाओं को देकर उन्हें रोजगार से जोड़ने की व्यवस्था भी की जा रही है। इसी तरह नौजवानों के लिये खाद्य सामग्री प्रदाय केन्द्रों से राशन की दुकानों तक सामग्री ले जाने के लिये गाड़ियां फायनेंस करायी जायेंगी। जिससे उन्हें लगभग 1.20 लाख रूपया किराया हर महीने मिलेगा। केन्द्र व राज्य सरकार कई तरह के नवचार कर रहे है। इसी तरह अब खेंचू (हेण्डपंप) से नहीं बल्कि हर गांव में पाइपलाइन बिछाकर टोटिंया लगाकर स्वच्छ पेयजल दिया जायेगा। मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्री की तारीफ करते हुये कहा कि उनके नेतृत्व में इस क्षेत्र में विकास के नये प्रतिमान गाढ़े गये है और इनका लाभ किसानों को निरंतर मिल रहा है। शिविर की अध्यक्षता करते हुये केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी चाहते है कि गांवों का विकास हो, खेती लाभकारी बनें और किसानों के जीवन स्तर में बदलाव आये। इसी दृष्टि से फसल बीमा का सुरक्षा कवच, पीएम किसान सम्मान निधि के माध्यम से करोड़ों किसानों को 2.16 लाख करोड़ रूपये सीधे उनके बैंक खातों में जमा कराना, किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के माध्यम से 18 लाख करोड़ रूपये का अल्पकालिक ऋण, एक लाख करोड़ रूपये का एग्री फंड जैसे अनेक ठोस कदम प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में उठाये गये है। प्रधानमंत्री श्री मोदी का मानना है कि गांव बढ़ेगा तो देश बढ़ेगा और किसानों की माली हालत सुधरेगी तो संपूर्ण देश की आर्थिक हालत सुधरेगी। इस मनोयोग को लेकर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बहुत ही शिद्धत के साथ देश व प्रदेश में काम कर रहे है, जिसका लाभ सभी को मिल रहा है। केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने मुख्यमंत्री की सराहना करते हुये कहा कि उन्होंने मध्यप्रदेश को बीमारू राज्य की श्रेणी से बाहर निकालकर विकास की राह पर तेजी के साथ आगे बढ़ाया है। मध्यप्रदेश के विकास के लिये आज केन्द्र और राज्य सरकार मिलकर काम कर रही है, जिसका यह कृषि मेला प्रदर्शनी अपने आप में एक उदाहरण है। केन्द्रीय मंत्री श्री तोमर ने कहा कि यह सिर्फ किसानों का सम्मेलन नहीं है, बल्कि एक बड़ा प्रशिक्षण शिविर है, जिसमें तीन दिन, खेती को उन्नत खेती बनाने, खेती में टेक्नोलॉजी का उपयोग करने, महंगी फसलों की ओर जाने, बायोफर्टिलाइजर व ड्रोन टेक्नोलॉजी का उपयोग करने, सरसों की खेती को उन्नत बनाने, कम पानी में धान पैदा करने, दलहन व तिलहन की फसलों को और बढ़ाने, बागवानी के क्षेत्र को और विस्तृत करने आदि के लिये विभिन्न सत्रों में प्रशिक्षण दिया जायेगा। तीन दिन में लगभग 40 सत्र होंगे। यहां प्रदर्शनी भी लगाई गई है, जिसमें खेती में काम आने वाले छोटे से लेकर बड़े तक सारे उपकरण प्रदिर्शत है। मंत्री श्री तोमर ने उम्मीद जताई कि यहां प्रशिक्षण से किसानों को काफी लाभ होगा और वे अपनी खेती को उन्नत खेती के रूप में तब्दील कर सकेंगे। प्रदेश के उद्यानिकी प्रसंस्करण एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश कृषि उत्पादन के क्षेत्र में अग्रणी राज्य बना है। पिछले 6 वर्षो से लगातार प्रदेश भारत सरकार की ओर से कृषि के क्षेत्र में दिये जाने वाले सर्वश्रेष्ठ सम्मान कृषि कर्मठ अवार्ड प्राप्त कर रहा है। आज भी सरकार कृषि के क्षेत्र में लगातार नये-नये आयाम एवं नवाचार पैदा कर रही है। आज भारत सरकार के केन्द्रीय कृषि, किसान कल्याण मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर और मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के प्रयासों से चंबल-ग्वालियर संभाग के किसानों का महाकुंभ मुरैना में आयोजित किया जा रहा है। इस तीन दिवसीय किसान प्रशिक्षण को प्राप्त करके किसान उन्नत आधुनिक खेती को अपनाकर अपना, अपने प्रदेश और देश का उत्थान करेंगे। शेष पेज-3 3 उन्होंने किसानों से कहा कि रबी एवं खरीफ फसलों के साथ-साथ उद्यानिकी फसले भी लें, ताकि खेती के साथ-साथ अतिरिक्त आमदनी भी प्राप्त हो सके। इसके पूर्व केन्द्रीय कृषि सचिव श्री मनोज आहूजा ने स्वागत भाषण देते हुये कहा कि किसानों के मार्गदर्शन के लिये प्रतिदिन विभिन्न कृषि महत्वपूर्ण विषयों पर 12-12 अलग-अलग तथा 4-4 सत्र सामूहिक होंगे, जिनमें देशभर के कृषि विशेषज्ञ जानकारी एवं प्रजेन्टेशन देंगे। प्रदर्शनी के 132 स्टॉल किसानों को अद्यतन जानकारी देने के लिये लगाये गये है। इनमें अनेक कृषि उन्नत उपकरणों व पेस्टीसाइड्स का भी प्रदर्शन किया गया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने 12 किसानों को ’’मेरी पॉलसी मेरे हाथ’’ योजना के तहत फसल बीमा पॉलिसी भेंट की। आजीविका मिशन के तहत दो महिला स्व-सहायता समूहों को ढ़ाई करोड़ रूपये के चैक भेंट किये। मौके पर सभी अतिथियों को तुल्सी का पौधा भेंट किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान को हिमाचल प्रदेश की कलाकृत्रि प्रतीक स्वरूप भेंट की गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विशाल प्रदर्शनी का फीता काटकर शुभारंभ किया। उन्होंने सभी प्रदर्शनियां के स्टॉल पर पहुंचकर केन्द्रीय कृषि मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने पहुंचकर अवलोकन किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किये पौने 32 करोड़ रूपये की लागत के भूमिपूजन एवं लोकार्पण मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने तीन दिवसीय किसान प्रशिक्षण मेला में पौने 32 करोड़ की लागत के विकास कार्यो का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। 19 करोड़ 9 लाख रूपये की लागत से बने 101 अमृत सरोवर का लोकार्पण किया। इसी प्रकार 10 करोड़ रूपये की लागत से मुरैना इंटीग्रेटेड स्पोर्ट कॉम्लेक्स के निर्माण का भूमिपूजन किया। वार्ड क्रमांक 41 न्यू आमपुरा, 35 शिकारपुर, 47 महाराजपुरा, 44 छौंदा, 36 संजय कॉलोनी, 19 इस्लामपुरा, 30 तुस्सीपुरा, 10 जौरी, 4 अतरसुमा, 02 बड़ोखर, 6 मुरैना गांव में 25-25 लाख रूपये से बनने वाली मुख्यमंत्री संजीवनी क्लीनिक का भूमिपूजन किया। जिला चिकित्सालय का नवीन नाम कुंअर जाहर सिंह शर्मा होगा मौके पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जिला चिकित्सालय मुरैना का नवीन परिवर्तित नाम कुंअर जाहर सिंह शर्मा के नाम से करने का लोकार्पण किया। आज से जिला चिकित्सालय मुरैना का नवीन नाम कुंअर जाहर सिंह शर्मा होगा। तीन दिवसीय किसान प्रशिक्षण मेला शुभारंभ अवसर पर यह रहे उपस्थित इस अवसर पर अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम के अध्यक्ष श्री रघुराज सिंह कंषाना, एमपी एग्रो के अध्यक्ष श्री ऐदल सिंह कंषाना, ऊर्जा विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिर्राज डंडोतिया, ग्वालियर सांसद श्री विवेक शेजवलकर, भिण्ड-दतिया संसदीय क्षेत्र की सांसद श्रीमती संध्या राय, मुरैना विधायक श्री राकेश मावई, अम्बाह विधायक श्री कमलेश जाटव, जौरा विधायक श्री सूवेदार सिंह रजौधा, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती आरती गुर्जर, महापौर श्रीमती शारदा सोलंकी, पूर्व मंत्री श्री रूस्तम सिंह, श्री मुंशीलाल, पूर्व विधायक श्री शिवमंगल सिंह तोमर, श्री परशुराम मुदगल, चंबल-ग्वालियर संभाग के कमिश्नर श्री दीपक सिंह, चंबल रेज के अतिरिक्त पुलिस निदेशक श्री राजेश चावला, कलेक्टर श्री अंकित अस्थाना, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष बागरी, भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ. योगेशपाल गुप्ता सहित जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में जिलों के किसान मौजूद रहे अंत में   मध्य-प्रदेश के अपर मुख्य सचिव (कृषि) श्री अशोक वर्णवाल ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।

टिप्पणियाँ
Popular posts
रायसेन।भीम आर्मी,अजाक्स, ने नवोदय विद्यालय बाड़ी प्राचार्य जीतेन्द्र मिश्रा के विरोध में प्रदर्शन कर एसडीएम को ज्ञापन सौंपा एसडीएम ने जांच के आदेश कर एफआईआर दर्ज करने का आश्वासन दिया।
चित्र
डबरा।सात दिन की कठोर मेहनत बाद शहर में हुई 35लाख रुपए की लूट का पर्दाफाश क्षेत्रीय विधायक सुरेश राजे ने पुलिस अधिकारियों एवं पुलिस प्रशासन को दी बधाई शुभकामनाएं ।
चित्र
डबरा। कांग्रेस पार्टी ने संविधान दिवस मनाया ,भारतीय संविधान सुरक्षित है तो लोकतंत्र सुरक्षित -घनश्यामभार्गव
चित्र
डा बी.आर.अम्बेडकरजी की 64 वा परिनिर्माण दिवस पर श्रद्धाजलि
चित्र
डबरा।35 लाख रूपये के लूट को लेकर एसडीएम वह एडिसन एसपीश्री कुवेर को लूटते चोरो को अतिशीघ्र पकड़ने के लिए, कांग्रेस पदाधिकारियों ने सौंपा ज्ञापन।
चित्र