ठंड में सताएगा जोड़ो हड्डियों का दर्द, करें पांच उपाय मिलेगी राहत----डाॅ. सोनिया सिंह ।

आर्थराइटिस से पीड़ित लोगों के लिए यह समय बेहद कठिन रहता है. तापमान गिरते ही जोड़ अकड़ने लगते हैं और हड्डियों में दर्द शुरू हो जाता है. उम्रदराज लोगों को तो उठने-बैठने में भी परेशानी झेलनी पड़ती है. डॉक्टर्स कहते हैं कि सर्दियों के मौसम में कुछ टिप्स आर्थराइटिस के मरीजों को राहत दे सकते हैं।

.तापमान गिरते ही जोड़ और हड्डियों में दर्द।

सर्दी के मौसम में लोगों को जोड़ और हड्डियों में दर्द की बहुत ज्यादा शिकायत रहती है।आर्थराइटिस से पीड़ित लोगों के लिए यह समय बेहद कठिन रहता है।तापमान गिरते ही जोड़ अकड़ने लगते हैं और हड्डियों में दर्द शुरू हो जाता है. उम्रदराज लोगों को तो उठने-बैठने में भी परेशानी झेलनी पड़ती है. डॉक्टर्स कहते हैं कि सर्दियों के मौसम में कुछ टिप्स आर्थराइटिस के मरीजों को राहत दे सकते हैं.

शरीर को गर्म रखें- इस मौसम में आर्थराइटिस के मरीजों को बहुत संभलकर रहना चाहिए. अपने पूरे बदन को गर्म कपड़ों से ढककर रखें. शरीर गर्म रहने से जोड़ों का दर्द कम होगा. हथेली और घुटनों को कपड़ों की एक्स्ट्रा लेयर से कवर करें. पैरों में मोजें पहनकर रखें. ठंड में ऐसी सावधानियां आर्थराइटिस में राहत देती हैं.

बॉडी हाइड्रेट- हमें सर्दी के मौसम में कम प्यास लगती है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि हमारे शरीर को भी पानी की कम जरूरत होती है. किसी भी मौसम में शरीर में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए. पानी बॉडी को हाइड्रेट रखता है जिससे हमारा शरीर ज्यादा एक्टिव रहता है. आप चाहें तो पानी की जगह चिकन सूप, वेजिटेबल सूप या दूसरे पेय पदार्थों से भी बॉडी को हाइड्रेट रख सकते हैं।

वजन मेंटेन करें- मोटापा या ज्यादा वजन की वजह से लोग कम एक्टिव रहते हैं. आर्थराइटिस से पीड़ित लोगों को अपना वजन हमेशा कंट्रोल रखना चाहिए. अगर जरूरत पड़े तो वजन घटाना भी शुरू कर देना चाहिए. इसके लिए आप कार्डियो, वेट लॉस ट्रेनिंग या खास डाइट की मदद ले सकते हैं. शरीर के भार का पूरा असर हमारे जोड़ और हड्डियों पर पड़ता है. इसलिए इसमें बिल्कुल लापरवाही ना बरतें।

गर्म पानी से नहाएं- सर्दियों में गर्म पानी से नहाने से भी बड़ी राहत मिलती है. आर्थराइटिस फाउंडेशन के मुताबिक, गर्म पानी आर्थराइटिस के मरीजों को बहुत राहत पहुंचाता है. इससे आपके जोड़ और मांसपेशियों को बड़ा आराम मिलता है. ध्यान रखें कि आपकी बॉडी के तापमान को नॉर्मल होने में समय लगता है, इसलिए कोल्ड टेंपरेचर से निकलकर तुरंत गर्म पानी से नहाने की भूल ना करेंं।

विटामिन डी- सर्दियों में विटामिन-डी की कमी होने पर हमारा शरीर दर्द के प्रति ज्यादा संवेदनशील रहता है. विटामिन-डी की कमी से आप ऑस्टियोपरोसिस की बीमारी का भी शिकार हो सकते हैं. इसलिए सर्दियों में कुछ देर धूप रहने का प्रयास करें. दिन में सिर्फ 15 मिनट धूप लेने से शरीर को काफी विटामिन-डी मिल जाता है. इसके लिए आप अंडे, मशरूम, फैटी फिश, दूध या डेयरी प्रोडक्ट्स का भी सेवन कर सकते हैं।

श्रीमती डाॅ सोनिया सिंह

 एमबीबीएस एम एस ,

आर्थोपेडिक सर्जन

अंडमान निकोबार द्वीपसमूह भारत 


टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
डबरा।विधायक सुरेश राजे सहित अनेक समाज सेवीयो ने दी जननायक समाज सेवी स्व श्री इन्द्र सिंह राजौरिया को श्रद्धांजलि ।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र