15 साल के पापों की लंका जल रही है तो आंच तो लगेगी-भूपेन्द्र गुप्ता


भोपाल।मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेंद्र गुप्ता ने गुप्ता ने विधायक शिवराज सिंह के माफिया की तरफदारी करने की निंदा की।  उन्होंने कहा कि पिछले 15 साल की पाप की लंका अब धूधू करके जल रही है तो उसकी प्रतिक्रियाएं सामने आने लगी हैं । गुप्ता ने कहा कि कमलनाथ जी ने प्रदेश की जनता को आश्वस्त किया था कि वह प्रदेश को ना केवल नागरिक अधिकारों पर डाका डालने वालों से मुक्ति दिलाएंगे बल्कि जो लोग लाभोन्माद  के लालच में मिलावट का जहर जनता को परोसते हैं उन्हें जमीन पर लाया जाएगा । जनता के आशीर्वाद से जब कमलनाथ जी की सरकार माफिया राज के दफन के मिशन को क्रियान्वित कर रही है तो भाजपा के नेता इस.अभियान में बाधक बन रहे हैं  । गुप्ता ने कहा कि अगर भाजपा के नेताओं को इस अभियान से इतनी चिढ़ है तो वे जनता के बीच में जाकर कहें कि माफियाओं को वे बचाकर रहेंगे वह खुलकर क्यों नहीं कहते कि 15 साल में जो माफिया पैदा हुआ है वे उनके निकट के लोग हैं ।उन्होंने भाजपा के नेताओं को आगाह किया कि इस अभियान को जनता का पूरा आशीर्वाद प्राप्त है और भारतीय जनता पार्टी को आगे बढ़कर इसमें कमलनाथ जी को सहयोग प्रदान करना चाहिए भारतीय जनता पार्टी के जिन  माफियाओं पर कथित गलत कार्रवाई हुई है उनके नाम शिवराज जी सार्वजनिक करें तो बेहतर होगा ताकि प्रशासनिक स्तर पर उसकी भी समीक्षा कर दूध का दूध और पानी का पानी किया जा सके।


टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा। पुलिस ने गुंडों के खिलाफ चलाया विशेष अभियान , पुलिस शराब की दुकान के सामने खड़ी करें डायल 100 जिससे शराबियों में भी रहेगा पुलिस का खौफ अपराधो पर लगेगा प्रश्न चिन्ह।
चित्र
दतिया।दतिया का विकास का रथ अब नहीं रुकेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान, मुख्यमंत्री जी ने रचा इतिहास --डा मिश्रा।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
भोपाल।शिकायतों के आधार पर हटेंगे कर्मचारी तीन वर्ष से एक ही स्थान पर जमे हैं अफसरों के तबादले पर चुनाव आयोग की राहत।
चित्र
बहुजन समाज को जागरूक करने वाले मासीह मान्यवार कांशीराम साहब जी का जन्म दिन 87वे 15मार्च को , बहुजन समाज को भारत सरकार से भारत रत्न की मांग करना चाहिए।
चित्र