नई दिल्ली। कांग्रेस में शामिल नहीं होने के फैसले के बाद, प्रशांत किशोर ने दी प्रतिक्रिया। क्या पीके को अंदरुनी भाजपा का डार हो सकता है इसलिए दी है प्रतिक्रिया ?
कांग्रेस में शामिल नहीं होने के फैसले के बाद, प्रशांत किशोर ने दी प्रतिक्रिया

नई दिल्ली।कांग्रेस में शामिल नहीं होने के फैसले के बाद प्रशांत किशोर ने पहली प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि मैंने कांग्रेस नेतृत्व के पार्टी में शामिल होने और EAG में चुनावों की जिम्मेदारी लेने के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। मेरी राय में, मेरे शामिल होने से ज्यादा, कांग्रेस को परिवर्तनकारी सुधारों के द्वारा कुछ गहरी संरचनात्मक समस्याओं को ठीक करने के लिए नेतृत्व सामूहिक इच्छाशक्ति की आवश्यकता है।

कार्य समूह 2024 का हिस्सा बनकर पार्टी में शामिल होने की पेशकश की गई

प्रशांत किशोर के ट्वीट से ठीक पहले कांग्रेस ने कहा कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर को विशेषाधिकार प्राप्त कार्य समूह 2024 का हिस्सा बनकर पार्टी में शामिल होने की पेशकश की गई, लेकिन उन्होंने इनकार कर दिया  इस समूह का हिस्सा बनकर पार्टी में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया पार्टी के प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट किया, प्रशांत किशोर की प्रस्तुति और उनके साथ चर्चा के बाद कांग्रेस अध्यक्ष ने विशेषाधिकार प्राप्त कार्य समूह 2024 का गठन किया और किशोर को निर्धारित जिम्मेदारी के साथ इस समूह का हिस्सा बनकर पार्टी में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने इनकार कर दिया। हम उनके प्रयासों और पार्टी को दिए गए सुझावों की सराहना करते हैं। 

किशोर के सुझावों पर विचार के लिए एक समिति बनाई थी

इससे पहले प्रशांत किशोर और कांग्रेस नेतृत्व के बीच कई दौर की बैठक चली। इसके बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रशांत किशोर के सुझावों पर विचार के लिए एक समिति बनाई थी। इस समिति ने सोनिया गांधी को पिछले दिनों रिपोर्ट सौंपी। प्रशांत किशोर जी ने कांग्रेस में शामिल होने से पहले अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त क्यों की  में शामिल नहीं हो सकता हूं हो सकता है कि प्रशांत किशोर के शामिल होने से भाजपा को चुनावी नुक्सान हो रहा हो इसलिए  कहीं भाजपा ने अंदुरूनी चारक्यनीति तो नहीं चला दी ।

टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
डबरा।विधायक सुरेश राजे सहित अनेक समाज सेवीयो ने दी जननायक समाज सेवी स्व श्री इन्द्र सिंह राजौरिया को श्रद्धांजलि ।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र