स्वरोजगार योजना से बदली पवन की तकदीर "खुशियों की दास्तां"











 


छतरपुर।छतरपुर निवासी पवन कुमार सोनी एक निर्धन परिवार से हैं, सिर्फ 13 वर्ष की आयु में ही पिता का देहांत हो जाने के कारण दूसरे की दुकान पर काम कर अपने परिवार का भरण-पोषण कर रहे थे। इसके बावजूद परिवार की आर्थिक स्थिति कमजोर थी, जिस कारण उसके परिवार की जरूरतें पूरी नहीं हो पा रही थी। पवन काफी परेशानी से गुजर रहा था, तभी उसके पड़ोसी ने बताया की तुम अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हो। जिसके लिए वित्तीय सहायता नगर पालिका में संचालित डे-एनयूएलएम योजना से लोन के फॉर्म भरे जा रहे हैं। इसके अंतर्गत मध्य प्रदेश शासन द्वारा 20 प्रतिशत मार्जिन मनी के साथ कम ब्याज पर ऋण राशि बैंक के माध्यम से मिल सकती हैं।


    यह जानकारी मिलते ही पवन तुरंत घर से सभी कागजात लेकर नगरपालिका गया जहां से शाखा के सिटी मिशन मैनेजर चंद्र प्रकाश गुप्ता ने योजना के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। साथ ही उन्होंने स्वयं ही पवन का मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत 2 लाख रूपये का ऋण प्रकरण जनरल स्टोर हेतु स्वीकृत कराया। कुछ दिनों के बाद नगरपालिका से पवन को जानकारी प्राप्त हुई कि उसका ऋण प्रकरण देना बैंक शाखा, छतरपुर को भेजा गया हैं। उसने शाखा में नगरपालिका के कर्मचारी लवकेश जैन के साथ जाकर फील्ड ऑफिसर एवं शाखा प्रबंधक से संपर्क किया। एक सप्ताह के पश्चात बैंक के अधिकारीयों द्वारा उसके घर का निरीक्षण किया गया, तत्पश्चात् शाखा प्रबंधक द्वारा पवन को 2 लाख रूपये का ऋण स्वीकृत किया गया। पवन ने शीघ्र ही फर्नीचर एवं काउन्टर तैयार करा कर, दुकान का शुभांरभ किया। वर्तमान में वह अपनी दुकान से 15 हजार रूपये प्रतिमाह की आमदानी बचत के रूप में कर रहा हैं। जिससे वह नियमित किश्त बैंक में जमा कर रहा हैं, साथ ही अपने परिवार का भरण-पोषण अच्छे कर पा रहा हैं।




Comments
Popular posts
हेमंत सिंह कुशवाहा को कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश सचिव बनाने पर जोर दार किया स्वागत दी बधाई।
Image
क्षेत्रीय जनसमस्याओ को लेकर नायव तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा अगर जनसमस्याओ निराकरण नहीं हुआ तो अर्धनग्न प्रदर्शन किया जाएगा---राजोरिया
Image
महर्षि वाल्मीकि जयंती मनाई -राजोरिया
Image
ग्वालियर।प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना में लापरवाही पड़ी भारी कलेक्टर श्री सिंह ने डबरा सीएमओ को किया निलंबित, क्या गारंटी है कि भदौरिया लापरवाही नहीं करेंगे । नगरपालिका डबरा में ऊपर से लेके नीचे तक भ्रष्टाचार चल रहा है कलेक्टर कराया जांच ।
Image
डबरा।विद्युत विभाग की लापरवाही एक महीने में उपभोक्ता को तीन बार दिया विल अधिकारी कर्मचारी मचा रहे हैं भ्रष्टाचार अधिकारीयो पर इंटेलिजेंट नहीं दे रही ध्यान।
Image