जानिए आज का राशि भाविष्यफल आर्चाय पं. जीतेद्र व्यासजगीपुरा डबरा बालो की कलम से ।

 समय का हम इंतजार करते है,  समय हमारा इंतजारनहीं करता।
 आज के लिए राशिफल:-
 पंचांग:-
*************************
दिनांक:-११:०१:२०२०
दिन:-शनिवार
तिथी:-प्रतिपदा
मांस:- माघ कृष्ण पक्ष
संवत्:-२०७६
∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆∆


मेष:-


 शांत रहें और रिश्तेदारों के साथ बहस करने से बचें। प्रबंधन के क्षेत्र में प्रतिभा के लिए  प्रतिष्ठा हो सकती है। उद्योग में अपेक्षित आवक में देरी हो सकती है। काम में ध्यान देने की जरूरत है।



भाग्यशाली दिशा : पश्चिम


भाग्यशाली संख्या : ८


भाग्यशाली रंग : हल्का पीला 


वृष :-उच्च शिक्षा छात्रों के लिए एक बेहतर वातावरण प्रदान करेगी। छिपी हुई प्रतिभाएं सामने 
आएगी। सार्वजनिक बोलने के लिए कोई सार्वजनिक समर्थन उपलब्ध है। बच्चों में एकता हो सकती हैं।भाग्यशाली दिशा : दक्षिण


भाग्यशाली संख्या : ६


भाग्यशाली रंग : सफ़ेद रंग


मिथुन :- दान कार्य करने से खुशी और प्रशंसा मिल सकती है। संबंधों में सुधार होगा। वाहन यात्रा लाभदायक है। नई वस्तुओं को खरीदने की कोशिश में मदद मिलेगी।


भाग्यशाली दिशा : दक्षिण पश्चिम


भाग्यशाली संख्या : ५


भाग्यशाली रंग : हल्का हरा 


कर्क :-नए उद्योग की सोच के पाठ्यक्रम में सुधार होगी। कार्यों में जिम्मेदारियां और अधिकार बढ़ेगें। किसी कार्य हेतु अच्छा अवसर है। सरकारी मामलों में देरी हो सकती है।


भाग्यशाली दिशा : उत्तर


भाग्यशाली संख्या : २


भाग्यशाली रंग : सफ़ेद रंग 


सिंह :- कार्य स्थानों पर सहकर्मियों को संगठित करें। अपनों के द्वारा कार्य में बृद्धि होगी।  अनावश्यक व्यय से एक तनावपूर्ण वातावरण हो सकता है।


भाग्यशाली दिशा : पूर्व


भाग्यशाली संख्या : १


भाग्यशाली रंग : नारंगी रंग 


कन्या:- जो लोग सार्वजनिक सेवा में संलग्न हैं उनके लिए एक अनुकूल स्थिति हो सकती है। उच्च अधिकारियों से उम्मीद में सफल हो सकती है। दान पुण्य से काम चलता है। आपको आपके उद्योग के छिपे हुए दुश्मन मिल जाएंगे। 


भाग्यशाली दिशा : दक्षिण


भाग्यशाली संख्या : ४


भाग्यशाली रंग : मधु रंग


तुला :-बड़ों का आशीर्वाद उपलब्ध है। काम के मामलों में अनुकूल माहौल हो सकता है। छोटे सह-जन्मों से लाभ होगा। परिवार के सदस्यों के साथ आराम करें। निर्धारित कार्य पर अपेक्षित दिन संदेश प्राप्त करेंगे।


भाग्यशाली दिशा : दक्षिण


भाग्यशाली संख्या : ७


भाग्यशाली रंग : गहरा लाल 


वृश्चिक :- बच्चों द्वारा समर्थित और परिवार के सदस्यों की खुशी उपलब्ध है। परिवार के नए सदस्यों का कोई प्रवेश होगा। सामाजिक सेवाएं अनुकूल हो सकती हैं। काम में ध्यान दे। 


भाग्यशाली दिशा : पूर्व


भाग्यशाली संख्या : ३


भाग्यशाली रंग : गहरा पीला 


धनु :- कार्यक्षेत्र में लगन से काम करेंगे। अवसाद काम पर अनजाने आलोचनाओं का कारण बन सकता है। हमें स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है। पति पत्नी के बीच कुछ असहमति हो सकती है।


भाग्यशाली दिशा : दक्षिण


भाग्यशाली संख्या : ९


भाग्यशाली रंग :  हल्का लाल 



 मकर:-गतिविधियों में सुस्त प्रवृत्ति रहेगी।अधिक आरामदायक समय होगा। आप नए आत्मविश्वास के साथ कार्य करेंगे। हमें स्वास्थ्य पर ध्यान देने की आवश्यकता है


भाग्यशाली दिशा : पश्चिम


भाग्यशाली संख्या : ३


भाग्यशाली रंग : हल्का पीला


कुंभ:-परिवार के सदस्यों के सहयोग से बचत बढ़ेगी। बड़े भाइयों और बहनों का सहयोग मिलेगा। पार्टनर से अच्छी खबर मिलेगी। व्यापार में लाभ की उम्मीद। आपको अधिकारियों का सहयोग मिलता है।



भाग्यशाली दिशा : पश्चिम


भाग्यशाली संख्या : ८


भाग्यशाली रंग :  बैंगनी रंग 


मीन :-एक ऐसी स्थिति होगी जहां मूल संपत्ति की समस्याएं समाप्त हो जाएंगी। उद्योग में सहकर्मियों से समर्थन प्राप्त करेंगे। बड़ों का आशीर्वाद प्राप्त करेंगे। हमें सामानों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है।


भाग्यशाली दिशा : उत्तर


भाग्यशाली संख्या : ६


भाग्यशाली रंग : चंदन सफेद


श्रीमती शकुन्तला देवी व्यास
              (ज्योतिर्विद)
  पं.जितेन्र्द व्यास
  श्रीराधाकृष्ण मंन्दिर
  जंगीपुरा,डबरा


टिप्पणियाँ
Popular posts
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
डबरा। हर्सोल्लास के साथ मनाया गया 75 वे गणतंत्र दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की दी गई प्रस्तुतियां, झंडा फहराया गया मुख्यमंत्री का संदेश वचन एसडीएम ने सुनाया
चित्र
दतिया।प्राकृतिक आपदा अति वर्षा से जिले के किसानों की नष्ट हुई फसलो का मुआवजा राहत राशि दिलाने कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के नाम एडीएम को सौपा ज्ञापन।
चित्र
डबरा। दिब्याशु चौधरी बने डबरा तहसील के नय एसडीएम शहर को मिले नए आईएएस अधिकारी।
चित्र
डबरा। नामदेव समाज के राष्ट्रीय अध्यक्ष का अल्प समय में ग्वालियर से झांसी निकलते समय डबरा के नामदेव समाज ने पिछोर तिराहा पर स्वागत किया।
चित्र