डबरा। सिटी पुलिस ने सहकारी साख संस्थापक के साथ 11लोगो पर एफआईआर दर्ज सभी फरार। शहर में चल रही है करोड़ों रुपए के लेन-देन की साख सहकारी संस्थाएं लेकिन प्रशासन की आंखों पर पट्टी चढ़ी हुई है ।एक साख सहकारी समिति के का शहर से है फरार पुलिस के कई थानों में दर्ज है एफआईआर झांसी दतिया ग्वालियर फिर भी पुलिस की पकड़ से धोखाधड़ी वाले हैं बहुत दूर ।

डबरा। शहर में हर गली में मोहल्ले में एक साख सहकारी संस्था खुली मिलेगी जो छोटे छोटे मजदूर वर्ग बडी मेहनत से खून पसीने की कमाई को छोटी साख मे जमा कर देते हैं और फिर साख सहकारी संस्था के संचालक और एजेंटों की मिली-जुली भगत से लाखों रुपए के जमा करतें हैं जिससे उपभोक्ताओं को वापिसी नहीं करते और करोड़ों रुपए लेकर साखा बंद कर फरार हो जाते हैं। सूत्रों बताते हैं कि डबरा शहर में हर गली में  सहकारिता संस्था खुली हुई हैं गीता टॉकीज रोड पर तो ठाकुर बाबा रोड कमल टॉकीज रोड अग्रसेन चौराहा नई बस्ती चीनोररोड कटारिया चौराहा पिछोर भितरवार में भी इन संस्थाओं की ब्रांच में खुले हुए हैं । सूत्र बताते हैं कि बड़े-बड़े उधोग करने वाले लोगों ने इन संस्थाओं लाखों  जमा कर टेक्स चोरी कर रहे अगर इन संस्थाओं के एक-एक सदस्य को बुलाया जाये तो हर साख सहकारी संस्थाओं की पोल भी खुल सकती है ।ऐसा ही एक मेरा पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार बताया गया है कि शहर में संचालित सहकारी साख संस्था डा बीआरअम्बेडकर बैंक के 12लोगो के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है ।शहर के दामोदर राजोरिया ने गीता टाकीज़ रोड़ डबरा पर दि अंबेडकर साख सहकारी संस्था के नाम पर कोआपरेटिव संस्था शुरू किया संस्था ने करीब


Comments