महापौर किशोरी पेडनेकर ने "द ललित" फाइव स्टार होटल में टीकाकरण केंद्र का किया औचक निरीक्षण।रिपोर्ट : के . रवि ( दादा )
 मुंबई।मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर को सोशल मीडिया के माध्यम से पता चला कि मुंबई के पांच सितारा होटल "द ललित" में पैकेज में टीके दिए जा रहे हैं, पांच सितारा होटल "द ललित" में टीकाकरण केंद्र का  मेयर किशोरी पेडनेकर  30 मई, 2021 को एक आपातकालीन निरीक्षण किया ।निरीक्षण के दौरान महापौर ने देखा कि कोल्ड स्टोरेज कंटेनरों का रखरखाव ठीक से नहीं किया गया था . मेयर ने होटल प्रबंधकों से इस बारे में पूछा तो पता चला कि होटल प्रशासन वैक्सीन सुरक्षा को लेकर गंभीर नहीं है और सभी नियमों का उल्लंघन कर नागरिकों को टीका लगाया जा रहा हैसोशल मीडिया के माध्यम से यह जानने के बाद कि मुंबई के कुछ होटल अपने पैकेज से कोविड के टीके दे रहे हैं, मेयर किशोरी पेडनेकर ने सीधे ललित होटल में जाकर पूछताछ की ।इस सर्वे में और भी कई बातें सामने आईं ।ललित होटल में कोविड के टीके घरेलू रेफ्रिजरेटर में संग्रहीत किए गए थे पानी की बोतलों का उपयोग बर्फ की थैलियों के रूप में किया जाता था इसलिए 'द ललित' में टीकाकरण की सुरक्षा पर सवाल उठाया गया है।मेयर पेडनेकर ने होटल मैनेजर से इस बारे में पूछताछ की ।टीका ललित के क्रिटिकेयर अस्पताल के माध्यम से दिया जा रहा है ।हालांकि यहां वैक्सीन के भंडारण के तरीके को लेकर संशय बना हुआ है।इसलिए पूरी जांच की जाएगी और क्रिटिकेयर अस्पताल की भी जांच की जाएगी,ऐसा मुंबई की  मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहां ।
टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र