भोपाल/डबरा।आपदा प्रबंधन में आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल जरूरी - गृह मंत्री डॉ. मिश्रा 4 करोड़ 16 लाख रूपये के निर्माण कार्यों का किया भूमि-पूजन और लोकार्पण।
एम एस बिशौटिया संपादक 9425734503
 भोपाल/डबरा।गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि आपदा प्रबंधन में आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल किया जाना बेहद जरूरी है। वे होमगार्ड के आपदा प्रबंधन कक्ष से प्रदेश के सभी होमगार्ड अधिकारियों से ऑनलाइन रूबरू होते हुए संवाद कर रहे थे। डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड लाइन में ढाई करोड़ रूपये से अधिक के निर्माण कार्यों का लोकार्पण कर अवलोकन भी किया। उन्होंने एक करोड़ 54 लाख रूपये के बहुउद्देशीय हॉल का भूमि-पूजन भी किया। इस अवसर पर महानिदेशक होमगार्ड श्री अशोक दोहरे, एडीजी श्री अशोक अवस्थी एवं श्री डी.सी. सागर, आईजी एसडीईआरएफ सुश्री दीपिका सूरी सहित होमगार्ड एवं आपदा प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। मंत्री डॉ. मिश्रा ने आपदा प्रबंधन संबंधी प्रदेश के सभी अधिकारियों का अभिनंदन करते हुए आपदा में किये गये कार्यों के लिये सैल्यूट किया। उन्होंने विगत डेढ़ वर्ष में प्रदेश में आई बाढ़, अतिवृष्टि और कोरोना जैसी गंभीर विपत्ति में विभाग द्वारा निष्ठापूर्वक किये गये कार्यों की सराहना की। डॉ. मिश्रा ने कहा कि टेक्नालॉजी वक्त के साथ बदलती जा रही है। जरूरत के मुताबिक हमे भी अपनी कार्यशैली में बदलाव लाना जरूरी है। आपदा के समय नई तकनीक का इस्तेमाल कर हम और अधिक लोगों की जान-माल की रक्षा कर सकते हैं।उन्होंने बताया कि विभाग की बेहतरी और आधुनिकीकरण की दिशा में निरंतर कार्य किया जा रहा है। डॉ. मिश्रा ने विभाग द्वारा किये जाने वाले साहसिक कार्यों का विभिन्न प्रकार से दस्तावेजीकरण करने के लिये निर्देशित किया है।मंत्री डॉ. मिश्रा ने होमगार्ड लाइन में 2 करोड़ 51 लाख 74 हजार रूपये लागत के एसडीईआरएफ कैम्पस में निर्मित 15 कक्षीय हॉस्टल, 2मंजिला बैरक, एसडीईआरएफ ऑफिस और बैरक, भोजनालय एवं सैनिक बैरक का लोकार्पण किया। साथ ही उन्होंने एक करोड़ 54 लाख रूपये की लागत से निर्मित किये जाने वाले नवीन बहुउद्देशीय हॉल का भूमि-पूजन किया। डॉ. मिश्रा ने कहा उपरोक्त लोकार्पण से लाइन विभिन्न शासकीय कार्यों व प्रशिक्षण के लिये आने वाले वरिष्ठ स्तर से लेकर सैनिक तक को रहने की सुविधा हो सकेगी।
डॉ. मिश्रा ने ऑनलाइन किया संवाद
   आपदा प्रबंधन के संभाग और जिला स्तरीय अधिकारियों से गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने ऑनलाइन संवाद किया। ग्वालियर, भोपाल, शहडोल, इंदौर और जबलपुर डिविजन के डिस्ट्रिक कमांडेंट ने आपदा प्रबंधन में आने वाली दिक्कतों के साथ ही विभागीय परेशानियों से अवगत कराया। डॉ. मिश्रा ने कहा कि यथाशीघ्र समस्याए दूर की जायेंगी। आपदा के समय 8 घंटे से अधिक ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों के नि:शुल्क स्वल्पाहार एवं भोजन संबंधी प्रस्ताव शासन स्तर पर विचाराधीन हैं।
टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र