डबरा।रतनगढ़ माता के ऑनलाइन दर्शन कर सकेंगे श्रृद्धालु ट्रैक्टर-ट्राली से सवारी ढोना प्रतिबंधित रहेगा संभागायुक्त श्री सक्सैना ने की व्यवस्थाओं की समीक्षा।


   डबरा। दीपावली पर्व की दौज 5 नवम्बर एवं 6 नवम्बर को माँ रतनगढ़ मंदिर पर आने वाले श्रृद्धालुओं के लिए की जा रही व्यवस्थाओं एवं तैयारियों की संभागायुक्त श्री आशीष सक्सैना ने गुरूवार को गूगल मीट के माध्यम से समीक्षा की। साथ ही संबंधित जिलो के कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षकों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। गूगल मीट में आईजी ग्वालियर श्री अविनाश शर्मा, डीआईजी चंबल रेंज श्री सचिन अतुलकर व डीआईजी ग्वालियर श्री राजेश हिंगणकर, कलेक्टर दतिया श्री संजय कुमार, कलेक्टर शिवपुरी श्री अक्षय कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक दतिया श्री अमन सिंह राठौर, पुलिस अधीक्षक ग्वालियर श्री अमित सांघी सहित उत्तर प्रदेश झांसी के डीएम श्री रविन्द्र कुमार, जालौन की डीएम श्रीमती प्रियंका निरंजन, एसएसपी झांसी श्री शिवहरी मीणा सहित संबंधित विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों एवं व्यवस्था से जुड़े विभागों के अधिकारियों से चर्चा की गई।
   संभागायुक्त श्री सक्सैना ने कहा कि सोशल मीडिया सहित अन्य प्रचार-प्रसार माध्यमों से लोगों को जानकारी दी जाए। रतनगढ़ माता पर पहुंचने वाले मार्ग पर सिंध नदी पर बना पुल बाढ़ के कारण क्षतिग्रस्त होने से उस मार्ग पर आवागमन प्रतिबंधित किया गया है। उन्होंने कहा कि श्रृद्धालुओं को बताया जाए कि माँ रतनगढ़ के आनलाईन दर्शन की भी सुविधा उपलब्ध रहेगी। श्री सक्सैना ने कहा कि दर्शन के लिए आने वाले श्रृद्धालु ट्रैक्टर-ट्राली का उपयोग न करें। ट्रैक्टर ट्राली से सवारी ढोना पूर्णतः प्रतिबंधित किया जाए।
    संभागायुक्त ने निर्देश दिए कि माता मंदिर मागों पर श्रृद्धालुओं के लिए पेयजल, स्वास्थ्य और वाहनों को हटाने के लिए क्रेन आदि की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि मंदिर परिसर में सकरी जगह होने पर स्थान-स्थान पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त किए जाएँ। इस दौरान कोविड गाईड लाईन का भी पालन कराया जाए।
    कलेक्टर दतिया श्री संजय कुमार ने बताया कि झांसी, छतरपुर, रीवा आदि स्थानों से आने वाले श्रृद्धालु दतिया होते हुए डबरा-पीछोर मार्ग से मंदिर पहुंच सकेंगे। जबकि ग्वालियर मुरैना आदि स्थानों से आने वाले लोग बेहट मार्ग से और जालौन, इटावा से आने वाले लोग भिण्ड़ लहार से होते हुए खमरौली होकर पहुंच सकेंगे। उन्होंने बताया कि 5 नवम्बर की रात्रि 12 बजे से ही श्रृद्धालुओं का आना शुरू हो जायेगा। स्थानीय स्तर पर एवं समीपवर्ती जिलों में प्रचार-प्रसार कर लोगों को बताया गया है कि कोविड के कारण इस बार भी मेले का आयोजन नहीं किया जा रहा है। दर्शन करने आने वाले प्रत्येक व्यक्ति को कोविड-19 की गाईड लाईन का पालन करना होगा।
संभागायुक्त अधिकारियों के साथ रतनगढ़ का भ्रमण करेंगे
    संभागायुक्त श्री सक्सैना सहित वरिष्ठ अधिकारियों के साथ 29 अक्टूबर को दोपहर 2 बजे रतनगढ़ का भ्रमण कर माँ रतनगढ़ मंदिर परिसर व वाहन पार्किग पहुंचकर मार्ग पर व्यवस्थाओं आदि का जायजा लेंगे।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
डबरा।विधायक सुरेश राजे सहित अनेक समाज सेवीयो ने दी जननायक समाज सेवी स्व श्री इन्द्र सिंह राजौरिया को श्रद्धांजलि ।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र