ग्वालियर।एडाप्ट एन आँगनवाडी" अभियान अब तक लगभग 58 हजार 735 सहयोगियों ने कराया पंजीयन
ग्वालियर ।प्रदेश में आँगनवाड़ी केन्द्र को सुदृढ़ करने के लिए समुदाय की भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से ''एडाप्ट एन आँगनवाड़ी'' अभियान चलाया जा रहा है। अभियान में अब तक लगभग 58 हजार 735 सहयोगियों द्वारा पंजीयन कराया गया है। महिला बाल विकास विभाग द्वारा 15 हजार 324 सहयोगियों से सम्पर्क कर संबंधित आँगनवाड़ी केन्द्र में आवश्यक सहयोग के लिए सहमति प्राप्त कर ली गई है।''एडाप्ट एन आँगनवाड़ी'' अभियान में आँगनवाड़ी केन्द्रों को अपनाने के लिए जन- प्रतिनिधि, शासकीय कर्मी, सामाजिक कार्यकर्ता, सामाजिक संगठन, गैर शासकीय संस्थाएँ, औद्यौगिक संस्थाएँ और अन्य संगठन आँगनवाड़ी संचालन, पोषण सुधार एवं अधो-संरचना आदि गतिविधियों में सहयोग कर सकते है। आँगनवाड़ी केन्द्र को एक वर्ष के लिए एडाप्ट किया जायेगा। संबंधित व्यक्ति आँगनवाड़ी केन्द्र से ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन सम्पर्क कर सकेंगे।आँगनवाड़ी केन्द्रों को अपनाने के लिए आँगनवाड़ी भवन एवं परिसर के लिए भूमि, आँगनवाड़ी भवनों और कक्षों का निर्माण, पूर्व से निर्मित भवनों का सुधार, रंग-रोगन, पूर्व से निर्मित भवनों की बाउण्ड्री-वाल का निर्माण, केन्द्र में हैण्ड पम्प की स्थापना, बच्चों के लिए सुलभ शौचालय, आउटडोर एवं इंडोर खेल सामग्री का प्रदाय, बच्चों को यूनिफार्म उपलब्ध कराना, केन्द्र के संचालन में आवश्यक सामग्री जैसे पंखा, घड़ी, फर्नीचर, बर्तन आदि उपलब्ध करा सकते है। साथ ही जन-प्रतिनिधि बच्चों को पोषण सुधार के लिए आवश्यक वित्तीय अथवा पोषण सामग्री का प्रदाय, अति कम वजन वाले बच्चों को पोषण पुनर्वास केन्द्रों में भेजने के लिए आवश्यक सहयोग तथा उसके परिवार को आवश्यकतानुसार वित्तीय सहयोग कर सकते है। ''एडाप्ट एन आँगनवाड़ी'' अभियान में सहयोग करने के लिए कोई भी व्यक्ति मोबाइल नम्बर 8989622333 पर मिस्ड कॉल कर पंजीयन करा सकता है।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर(एम एस बिशौटिया संपादक)फूल सिंह बरैया की बेटी की शादी का अनोखा कार्ड चर्चा में।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र