डबरा। बाबू जगजीवन राम की जयंती कार्यक्रम आयोजित किया । राजौरिया
डबरा।भारत के उप प्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम की जयंती कार्यक्रम आयोजित किया गया बाबूजी की छाया चित्र पर माला चढ़ाकर जन्म दिवस मनाया जिसमें महाराज सिंह राजोरिया प्रांतीय संयोजक मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी एससी विभाग ने अपने उद्बोधन में बताया कि बाबू जगजीवन राम का जन्म आज के दिन ही पांच अप्रैल उन्नीस सौ आठ ईस्वी को ग्राम चंदवा गांव बिहार में हुआ था उनके पिता किसान थे तथा लोकसभा क्षेत्र सासाराम से लगातार आठ बार सांसद रहे तथा वह श्रम मंत्री एवं रेल मंत्री एवं कृषि मंत्री एवं रक्षा मंत्री एवं भारत के उप प्रधानमंत्री रहे उनके कार्यकाल में अनेकों भर्तियां निकाली गई जिसमें लाखों लोगों को नौकरियां दिलवाई तथा वह अनुसूचित जाति जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के हितेषी थे हर वर्ग के मसीहा के रूप में उनको याद किया जाता है आज हमारे बीच में नहीं है उनकी यादें सदियों तक हमें आती रहेगी इस जयंती कार्यक्रम में महाराज सिंह राजोरिया प्रांतीय संयोजक सुरेश राजोरिया ग्वालियर मंगल सिंह राजोरिया कैलाश सिंह कुशवाह बलवंत सिंह राजोरिया गजेंद्र सिंह जाटव सुरेंद्र सिंह राजोरिया करण सिंह रावत बाबूलाल कुशवाहा मुकेश पाल सुमानसाह तिलक सिंह गुर्जर अशोक चौरसिया राजेंद्र बाथम हरिशंकर राजोरिया राघवेंद्र सिंह विक्रम सिंह जाटव उत्तम सिंह आदि लोग जयंती में उपस्थित रहे।कार्यक्रम के सभी सदस्यों का आभार व्यक्त सुरेंद्र  सिंह राजोरिया ने आभार व्यक्त किया।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर(एम एस बिशौटिया संपादक)फूल सिंह बरैया की बेटी की शादी का अनोखा कार्ड चर्चा में।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र