जिले की विभिन्न समस्याओं से मंत्री को कराया अवगत।

 


मनीषयादवसंवाददाता


पंचमहलकेसरीअखबार
टीकमगढ़/निवाड़ी। जिले में फैली विभिन्न अवस्थाओं को देखते हुये प्रदेष वरिष्ठ समाजसेवी पं कृष्णकान्त तिवारी ने महिला एवं बाल विकास मंत्री म.प्र.शासन श्रीमती इमरती देवी से उनके ग्वालियर निवास पर मुलाकात कर टीकमगढ़ एवं निवाड़ी जिले की विभिन्न समस्याओं से अवगत कराया। मंत्री इमरती देवी से भेंट कर उन्हे जिले की आंगनवाडियों की खस्ता हालात से अवगत कराते हुये बताया, कि जिले में लगभग समस्त आंगनवाडी सही समय पर न ही खोले जाते हैं और न ही उनका सही तरीके से क्रियान्वयन किया जा रहा है। देखने में आता है, कि बच्चों कोे दिये जाने वाले पोषक आहार की गुणवत्ता भी न के बराबर रहती है, जिस पर जिला प्रषासन पर साफ चुप्पी देखने को मिल रही है। ऐसे में आंगनवाडीयों की स्थिति खराब होती जा रही है। इसके साथ ही आज जिले में आगनवाडीयों की संख्या कम व उनमें कर्मचारियों की संख्या भी बेहद कम है, जिस पर विभाग के द्वारा इस समस्या के निराकरण का आग्रह किया गया। पं कृष्णकान्त तिवारी ने समस्याओं को अवगत कराते हुये बताया, कि समस्त आंगनवाडियों का नियमित चैक किया जाना अनिवार्य है तभी स्थिति में सुधार होगा। उन्होंने लिखित पत्र के माध्यम से अवगत कराते हुये बताया कि जिले मे महिलाओं के प्रति भी आज वैसा माहौल नहीं रहा है जैसा भयमुक्त माहौल रहना चाहिये। विगत कुछ दिनों में घरेलू विवादों को देखा जाये तो आज जिले में ऐसे अनेक केस देखने को मिल रहे हैं, जिनमें महिलाओं को प्रताणित किया जा रहा है कही दहेज को लेकर तो कही घरेलू लड़ाई झगडे को लेकर के जिनसे आये दिन घटनायें होती रहती है, लेकिन इसपर पुलिस का रवैया असंतोषजनक रहने से जिले के नागरिकों का मन भय से पीडित हो जाता है। समस्याओं का समाधान गांव के वरिष्ठ व्यक्तियों द्वारा आज भी पुलिस से सहयोग न मिलने से किया जाता है। आपको बता दें, कि महिलाओं को प्रताणित करने के मामले आज कोई नये मामले नहीं है। पहले से सरकार में महिला आयोग के माध्यम से इन सभी मामलों पर समाधान करने के लिये अवगत कराया गया था। परन्तु इन सब पर कोई आवष्यक कार्यवाही नहीं हो पायी है। देखने में आता है, कि महिला आयोग के कहने पर भी आवष्यक कार्यवाही से अभी तक बहुत से मामलों में नहीं हो पायी है। इस पर मंत्री इमरती देवी ने पं कृष्णकान्त तिवारी के माध्यम से समस्त टीकमगढ़ एवं निवाडी जिले के नागरिकों को जल्द से जल्द समस्याओं के निराकरण का आष्वासन के साथ ही प्रषासनिक अधिकारियों को उचित निर्देष देने की बात कही गयी है। इसके साथ ही जल्द से जल्द जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक करके समस्याओं को हल किया जावेगा। इस मौके पर मध्यप्रदेष कर्मचारी संघ के संभागीय अध्यक्ष पं मनोज दुबे, नितिन टईये, धीरेन्द्र जायसवाल, अमित अस्तया, गौरव भार्गव प्रमुख रूप से मौजूद रहे।


टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा। पुलिस ने गुंडों के खिलाफ चलाया विशेष अभियान , पुलिस शराब की दुकान के सामने खड़ी करें डायल 100 जिससे शराबियों में भी रहेगा पुलिस का खौफ अपराधो पर लगेगा प्रश्न चिन्ह।
चित्र
दतिया।दतिया का विकास का रथ अब नहीं रुकेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान, मुख्यमंत्री जी ने रचा इतिहास --डा मिश्रा।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
भोपाल।शिकायतों के आधार पर हटेंगे कर्मचारी तीन वर्ष से एक ही स्थान पर जमे हैं अफसरों के तबादले पर चुनाव आयोग की राहत।
चित्र
बहुजन समाज को जागरूक करने वाले मासीह मान्यवार कांशीराम साहब जी का जन्म दिन 87वे 15मार्च को , बहुजन समाज को भारत सरकार से भारत रत्न की मांग करना चाहिए।
चित्र