जनसम्पर्क विभाग रिश्वतखोरो, भ्रष्टाचारियों और दागियों से मुक्त हो। 17दिसम्बर को धरना जनसंपर्क विभागकार्यलयभोपाल के सामने।
कमलनाथसरकार ने बड़े अखबारों को दे रहे हैैं खुुुले आम विज्ञापन छोटे-छोटे अखबारों को दिखाया अंगूठा ।


भोपाल । प्रिंट मीडिया जर्नलिस्ट एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने प्रेस जारी में  बताया कीबाबूओ कार्यप्रणाली में अधिकारियों की मिलीभगत के कारण  जनसम्पर्क विभाग और प्रदेश सरकार की छवि खराब हो रही है यहां के अधिकारियों ने बाबूओं को खुली छूट दे रखी है जिस कारण यहां के बाबूओ ने भ्रष्ट्राचार कर करोड़ो की संपत्ति बना ली है ।जनसम्पर्क विभाग के बाबूओं ने शासन के नियमों की धज्जियाँ उड़ाई है जो 15 से 20 वर्षो के एक ही शाखा में जमे है इन शातिर बाबूओं का अंदाज़ा इसी बात से लगया जा सकता है की इनकी योजना यही सेवानिवृत्त होने की है यहां के अधिकारी भी कम दोषी नही, जिनको मुख्यालय में जमाए रखा ।प्रिंट मीडिया जर्नलिस्ट एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने जनसम्पर्क प्रमुख सचिव श्री संजय कुमार शुक्ल से माँग की है की अधिमान्यता शाखा में पदस्थ बाबू ,वीरेंद्र सिंह भदौरिया, राजेन्द्र पाठक ,विज्ञापन शाखा के बाबू, मूलचंद्र मिश्रा, बी.एम सिटोके, लक्षमण चौबे बिल शाखा के बाबू अश्वनी कौशिक को मुख्यालय से हटाकर भोपाल के बाहर पदस्थ किया जाये एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने जनसम्पर्क मंत्री एवं प्रमुख सचिव की माँग करते हुआ कहा की रिश्वतखोरो, भ्रष्टाचारियों और दागियों से विभाग को मुक्त कराने के सम्बन्ध में सफ़ाई अभियान चलाऐ जाने की माँग की है ।



Comments
Popular posts
डंपर की चपेट में आने से कमलसिंह उसकी मौत पीछे बैठी केला देवी पत्नी कमल सिंह कुशवाहा गंभीर रूप से घायल लगाया जाम प्रशासन अधिकारी व पूर्व मंत्री, आजाद समाज पार्टी कांशीराम के पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे दिलाया आर्थिक सहायता ।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों को भेंट की डा भीमराव अम्बेडकर जी की भीम आर्मी ने तस्वीर ,तो अधिकारी ने तस्वीर पर जूते पहनकर किया माल्यार्पण हैरान रह गए भीम आर्मी के सदस्य ,यह अधिकारी ने किया गलत ---- महाराज राजौरिया
Image
पेट का दर्द दिखाने महिला डॉक्टर को मुरार सरकारी हॉस्पिटल में गई तो डाक्टर ने प्रेगनेंसी के बारे में पूछा लिया कब से हो प्रेग्नेंट युवती जवकि अनमैरिड है युवती ने प्रेगनेंट बारे में केसे पुछा और विरोध किया तो महिला डाक्टर ने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज की जांच शुरू । इस मामले को लेकर बड़े बड़े मीडिया ने महिला डाक्टर का वचव पछ छापा गया।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों ने मिलकर हटाई वर्षों से लगी डा भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर ।
Image
प्रदेश में अनुसूचित-जाति वर्ग की छात्राओं के लिये 10 छात्रावासों की मंजूरी ।
Image