जनसम्पर्क विभाग रिश्वतखोरो, भ्रष्टाचारियों और दागियों से मुक्त हो। 17दिसम्बर को धरना जनसंपर्क विभागकार्यलयभोपाल के सामने।
कमलनाथसरकार ने बड़े अखबारों को दे रहे हैैं खुुुले आम विज्ञापन छोटे-छोटे अखबारों को दिखाया अंगूठा ।


भोपाल । प्रिंट मीडिया जर्नलिस्ट एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने प्रेस जारी में  बताया कीबाबूओ कार्यप्रणाली में अधिकारियों की मिलीभगत के कारण  जनसम्पर्क विभाग और प्रदेश सरकार की छवि खराब हो रही है यहां के अधिकारियों ने बाबूओं को खुली छूट दे रखी है जिस कारण यहां के बाबूओ ने भ्रष्ट्राचार कर करोड़ो की संपत्ति बना ली है ।जनसम्पर्क विभाग के बाबूओं ने शासन के नियमों की धज्जियाँ उड़ाई है जो 15 से 20 वर्षो के एक ही शाखा में जमे है इन शातिर बाबूओं का अंदाज़ा इसी बात से लगया जा सकता है की इनकी योजना यही सेवानिवृत्त होने की है यहां के अधिकारी भी कम दोषी नही, जिनको मुख्यालय में जमाए रखा ।प्रिंट मीडिया जर्नलिस्ट एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने जनसम्पर्क प्रमुख सचिव श्री संजय कुमार शुक्ल से माँग की है की अधिमान्यता शाखा में पदस्थ बाबू ,वीरेंद्र सिंह भदौरिया, राजेन्द्र पाठक ,विज्ञापन शाखा के बाबू, मूलचंद्र मिश्रा, बी.एम सिटोके, लक्षमण चौबे बिल शाखा के बाबू अश्वनी कौशिक को मुख्यालय से हटाकर भोपाल के बाहर पदस्थ किया जाये एसोसियेशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष परवेज़ भारतीय ने जनसम्पर्क मंत्री एवं प्रमुख सचिव की माँग करते हुआ कहा की रिश्वतखोरो, भ्रष्टाचारियों और दागियों से विभाग को मुक्त कराने के सम्बन्ध में सफ़ाई अभियान चलाऐ जाने की माँग की है ।



टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र