डबरा  पंचायतों के खातो से आहरण-संवितरण पर पांबदी।


डबरा । पंचायतवं ग्रामीण विकास विभाग मप्र भोपाल द्वारा प्रदेश में निर्वाचित पंचायतो का कार्यकाल माह मार्च 2020 में समाप्त होने जा रहा है। मप्र पंचायतराज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 (क्रमांक 1 सन् 1994) की धारा 9 (1) के अनुसार प्रत्येक ग्राम पंचायत अपने प्रथम सम्मिलन के लिए नियम तारीख से पाच वर्ष तक के लिए बनी रहेगी और इससे अधिक नही। साथ ही अधिनियम की धारा 20(1) के प्रावधान लागू होगे। जिनमें पंचायतो के खातो से आहरण-संवितरण पर पांबदी लगाने के निर्देश जिला कलेक्टरो को जारी किये है।




मप्र पंचायतराज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 68 की उपधारा 4(1) के प्रावधान अनुसार ग्राम पंचायत के मामले में सरपंच तथा सचिव के संयुक्त हस्ताक्षरो से खातो से राशि के आहरण का प्रावधान है। ग्राम पंचायतो का कार्यकाल समाप्त होने के दिनांक से मप्र पंचायतराज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम 1993 की धारा 87(3)(ख) अनुसार वैकल्पित व्यवस्था होने पर ग्राम पंचायतो के खातो का परिपालन एवं आहरण संवितरण सरपचो के हस्ताक्षर से किये जाने पर पाबंदी लगाने के निर्देश जिला कलेक्टरो को दिये गये है। साथ ही संबंधित समस्त बैंको एवं अन्य व्यवस्थाओ को तत संबंधी सूचना देने को कहा गया है।



Comments
Popular posts
डंपर की चपेट में आने से कमलसिंह उसकी मौत पीछे बैठी केला देवी पत्नी कमल सिंह कुशवाहा गंभीर रूप से घायल लगाया जाम प्रशासन अधिकारी व पूर्व मंत्री, आजाद समाज पार्टी कांशीराम के पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे दिलाया आर्थिक सहायता ।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों को भेंट की डा भीमराव अम्बेडकर जी की भीम आर्मी ने तस्वीर ,तो अधिकारी ने तस्वीर पर जूते पहनकर किया माल्यार्पण हैरान रह गए भीम आर्मी के सदस्य ,यह अधिकारी ने किया गलत ---- महाराज राजौरिया
Image
पेट का दर्द दिखाने महिला डॉक्टर को मुरार सरकारी हॉस्पिटल में गई तो डाक्टर ने प्रेगनेंसी के बारे में पूछा लिया कब से हो प्रेग्नेंट युवती जवकि अनमैरिड है युवती ने प्रेगनेंट बारे में केसे पुछा और विरोध किया तो महिला डाक्टर ने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज की जांच शुरू । इस मामले को लेकर बड़े बड़े मीडिया ने महिला डाक्टर का वचव पछ छापा गया।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों ने मिलकर हटाई वर्षों से लगी डा भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर ।
Image
प्रदेश में अनुसूचित-जाति वर्ग की छात्राओं के लिये 10 छात्रावासों की मंजूरी ।
Image