भोपाल।पाँच दिवसीय अल्प-विराम सत्र ऑनलाइन आयोजित करने का निर्णय "लॉकडाउन में बाहर नहीं, भीतर चलें" सिद्धांत पर होंगे सत्र

 


 


भोपाल।राज्य आनंद संस्थान द्वारा ऑनलाइन कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से पाँच दिवसीय अल्प-विराम सत्र आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। इस कार्यक्रम में भाग लेने के इच्छुक व्यक्ति संस्थान की वेबसाइट https://www.anandsansthanmp./ पर अपना आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।


पाँच दिवसीय अल्प-विराम कार्यक्रम में प्रतिदिन सुबह 10 से 11.30 बजे तक सत्र होगा। इसके पहले सुबह 7 से 8 बजे तक सभी प्रतिभागियों को स्वयं डायरी पेन के साथ एक घंटा दिए गये प्रश्नों का अल्प-विराम लेना होगा।


'प्रथम आये-प्रथम पाए' फार्मूले के आधार पर 40 प्रतिभागियों को इस कार्यक्रम में प्रवेश दिया जाएगा। कार्यक्रम के संबंध में अधिक जानकारी मोबाइल नम्बर-7723929667 पर प्राप्त की जा सकती है। जिन आवेदकों को अल्प-विराम कार्यक्रम में प्रवेश दिया जाएगा, उनके मोबाइल नम्बर के आधार पर संवाद के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया जाएगा। व्हाट्सएप ग्रुप पर सभी प्रतिभागी एक-दूसरे से परिचय प्राप्त करेंगे।


प्रतिदिन सुबह 10 से 11.30 बजे सत्र की लॉगइन आईडी एवं यूजर पासवर्ड WhatsApp group पर दिया जायेगा। सत्र के लिए आप अपने घर में किसी भी शांत स्थान पर डायरी एवं पेन के साथ बैठें।


सत्रों का विषय


सत्र में पहले दिन- सेल्फ अवेयरनेस (समाज, परिवार एवं स्वयं के प्रति जागरूकता), दूसरे दिन- चिंता का दायरा-प्रभाव का दायरा, (कैसे चिंता को चिंतन में परिवर्तित कर समाधान की ओर बढ़ें), तीसरे दिन-जीवन का लेखा-जोखा (कृतज्ञता, क्षमा, माफी, धन्यवाद), चौथे दिन- सम्पर्क, सुधार और दिशा (शांत समय में भीतर की शक्ति से जुड़ना) और पाँचवे दिन- संबंध एवं जीवन का उद्देश्य विषय पर परिचर्चा होगा


Comments
Popular posts
डंपर की चपेट में आने से कमलसिंह उसकी मौत पीछे बैठी केला देवी पत्नी कमल सिंह कुशवाहा गंभीर रूप से घायल लगाया जाम प्रशासन अधिकारी व पूर्व मंत्री, आजाद समाज पार्टी कांशीराम के पदाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे दिलाया आर्थिक सहायता ।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों को भेंट की डा भीमराव अम्बेडकर जी की भीम आर्मी ने तस्वीर ,तो अधिकारी ने तस्वीर पर जूते पहनकर किया माल्यार्पण हैरान रह गए भीम आर्मी के सदस्य ,यह अधिकारी ने किया गलत ---- महाराज राजौरिया
Image
पेट का दर्द दिखाने महिला डॉक्टर को मुरार सरकारी हॉस्पिटल में गई तो डाक्टर ने प्रेगनेंसी के बारे में पूछा लिया कब से हो प्रेग्नेंट युवती जवकि अनमैरिड है युवती ने प्रेगनेंट बारे में केसे पुछा और विरोध किया तो महिला डाक्टर ने गलत शब्दों का इस्तेमाल किया। जिसकी शिकायत पुलिस थाने में दर्ज की जांच शुरू । इस मामले को लेकर बड़े बड़े मीडिया ने महिला डाक्टर का वचव पछ छापा गया।
Image
डाक विभाग के अधिकारियों ने मिलकर हटाई वर्षों से लगी डा भीमराव अंबेडकर जी की तस्वीर ।
Image
प्रदेश में अनुसूचित-जाति वर्ग की छात्राओं के लिये 10 छात्रावासों की मंजूरी ।
Image