शिवराज मंत्रिमंडल से चार मंत्रियों को देना पड़ेगा इस्तीफा । भाजपा से नाराज़ नेता जा सकते कांग्रेस में कांग्रेस का बढ़ेगा जनाधार ---सूत्र। मूलचंद मेंधोलिया भोपाल ब्यूरो चीफ पंचमहलकेसरी अखबार

भोपाल ।मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और मुख्य सचिव इकबालसिंह बैंस को सुप्रीम कोर्ट के नोटिस मिलने के बाद अब 4 मंत्रियों को हटाना पड़ेगा। वर्तमान में मध्यप्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर मंत्रिमंडल की संख्या में इज़ाफ़ा कर लिया था। जिसको संविधान का उल्लंघन माना गया। संविधान के अनुसार- वर्तमान पदेन विधानसभा के सदस्यों की संख्या के मान से 15% विधायकों को ही मंत्री बनाया जा सकता है। वर्तमान में विधानसभा में कुल 203 विधानसभा सदस्य हैं इसलिए 15% के अनुसार केवल 30 विधायक ही मंत्री बनाए जा सकते हैं जबकि मध्यप्रदेश के मंत्रिमंडल में सदस्यों की संख्या 34 है। इसलिए किन्ही चार मंत्रियों को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ेगा। अब चार मंत्री कौन होंगे यह मुख्यमंत्री और उनका मंत्रिमंडल ही तय करेगा ।


टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। डा अम्बेडकर की प्रतिमा को रात्रि में अज्ञात लोगों ने किया खंडित अज्ञात व्यक्तियों के नाम एफआईआर दर्ज,रखी जायेगी नई प्रतीमा- एसडीएम खेमरिया।
चित्र
डबरा।डा अंबेडकर जी की प्रतिमा का अनावरण समारोह 16अक्टूवार 22 गांव सिसगांव में ।
चित्र
ग्वालियर।एसपी ग्वालियर ने सेवानिवृत्त हुए पुलिस अधिकारी व कर्मियों को दी भावभीनी विदाई।
चित्र
झांसी।कांग्रेस ने खेला कार्ड बहुजन नेता ब्रजलाल खाबरी पूर्व सांसद को बनाया उत्तर प्रदेश का प्रदेश अध्यक्ष ।
चित्र
ग्वालियर।बामसेफ, डीएस-4 बसपा के संस्थापक बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब जी के 16 वें महापरिनिर्वाण दिवस पर जिला स्तरीय श्रध्दांजलि सभा 9 अक्टूबर 22 को---सतीश मंडेलिया
चित्र