शिवराज मंत्रिमंडल से चार मंत्रियों को देना पड़ेगा इस्तीफा । भाजपा से नाराज़ नेता जा सकते कांग्रेस में कांग्रेस का बढ़ेगा जनाधार ---सूत्र। मूलचंद मेंधोलिया भोपाल ब्यूरो चीफ पंचमहलकेसरी अखबार

भोपाल ।मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और मुख्य सचिव इकबालसिंह बैंस को सुप्रीम कोर्ट के नोटिस मिलने के बाद अब 4 मंत्रियों को हटाना पड़ेगा। वर्तमान में मध्यप्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर मंत्रिमंडल की संख्या में इज़ाफ़ा कर लिया था। जिसको संविधान का उल्लंघन माना गया। संविधान के अनुसार- वर्तमान पदेन विधानसभा के सदस्यों की संख्या के मान से 15% विधायकों को ही मंत्री बनाया जा सकता है। वर्तमान में विधानसभा में कुल 203 विधानसभा सदस्य हैं इसलिए 15% के अनुसार केवल 30 विधायक ही मंत्री बनाए जा सकते हैं जबकि मध्यप्रदेश के मंत्रिमंडल में सदस्यों की संख्या 34 है। इसलिए किन्ही चार मंत्रियों को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ेगा। अब चार मंत्री कौन होंगे यह मुख्यमंत्री और उनका मंत्रिमंडल ही तय करेगा ।


टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा। पुलिस ने गुंडों के खिलाफ चलाया विशेष अभियान , पुलिस शराब की दुकान के सामने खड़ी करें डायल 100 जिससे शराबियों में भी रहेगा पुलिस का खौफ अपराधो पर लगेगा प्रश्न चिन्ह।
चित्र
दतिया।दतिया का विकास का रथ अब नहीं रुकेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान, मुख्यमंत्री जी ने रचा इतिहास --डा मिश्रा।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
भोपाल।शिकायतों के आधार पर हटेंगे कर्मचारी तीन वर्ष से एक ही स्थान पर जमे हैं अफसरों के तबादले पर चुनाव आयोग की राहत।
चित्र
बहुजन समाज को जागरूक करने वाले मासीह मान्यवार कांशीराम साहब जी का जन्म दिन 87वे 15मार्च को , बहुजन समाज को भारत सरकार से भारत रत्न की मांग करना चाहिए।
चित्र