शिवराज मंत्रिमंडल से चार मंत्रियों को देना पड़ेगा इस्तीफा । भाजपा से नाराज़ नेता जा सकते कांग्रेस में कांग्रेस का बढ़ेगा जनाधार ---सूत्र। मूलचंद मेंधोलिया भोपाल ब्यूरो चीफ पंचमहलकेसरी अखबार

भोपाल ।मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान और मुख्य सचिव इकबालसिंह बैंस को सुप्रीम कोर्ट के नोटिस मिलने के बाद अब 4 मंत्रियों को हटाना पड़ेगा। वर्तमान में मध्यप्रदेश सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर मंत्रिमंडल की संख्या में इज़ाफ़ा कर लिया था। जिसको संविधान का उल्लंघन माना गया। संविधान के अनुसार- वर्तमान पदेन विधानसभा के सदस्यों की संख्या के मान से 15% विधायकों को ही मंत्री बनाया जा सकता है। वर्तमान में विधानसभा में कुल 203 विधानसभा सदस्य हैं इसलिए 15% के अनुसार केवल 30 विधायक ही मंत्री बनाए जा सकते हैं जबकि मध्यप्रदेश के मंत्रिमंडल में सदस्यों की संख्या 34 है। इसलिए किन्ही चार मंत्रियों को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ेगा। अब चार मंत्री कौन होंगे यह मुख्यमंत्री और उनका मंत्रिमंडल ही तय करेगा ।


Comments
Popular posts
हेमंत सिंह कुशवाहा को कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के प्रदेश सचिव बनाने पर जोर दार किया स्वागत दी बधाई।
Image
क्षेत्रीय जनसमस्याओ को लेकर नायव तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा अगर जनसमस्याओ निराकरण नहीं हुआ तो अर्धनग्न प्रदर्शन किया जाएगा---राजोरिया
Image
महर्षि वाल्मीकि जयंती मनाई -राजोरिया
Image
ग्वालियर।प्रधानमंत्री स्व-निधि योजना में लापरवाही पड़ी भारी कलेक्टर श्री सिंह ने डबरा सीएमओ को किया निलंबित, क्या गारंटी है कि भदौरिया लापरवाही नहीं करेंगे । नगरपालिका डबरा में ऊपर से लेके नीचे तक भ्रष्टाचार चल रहा है कलेक्टर कराया जांच ।
Image
डबरा।विद्युत विभाग की लापरवाही एक महीने में उपभोक्ता को तीन बार दिया विल अधिकारी कर्मचारी मचा रहे हैं भ्रष्टाचार अधिकारीयो पर इंटेलिजेंट नहीं दे रही ध्यान।
Image