हैदराबाद। (पंचमहलकेसरीअखबार) लव जिहाद : संविधान का मजाक उड़ा रहे हैं भाजपा शासित राज्य ,सभी विपक्षी दलों के साथी मंदबुद्धि मानसिकता जो दे रहे साथ नहीं कर रह पाते विरोध -असदुद्दीन ओवैसी

लव जिहाद : संविधान का मजाक उड़ा रहे हैं भाजपा शासित राज्य , दे रहे हैं सभी विपक्षी दलों के साथ मंदबुद्धि गुलाम -असदुद्दीन ओवैसी ।

हैदराबाद। (पंचमहलकेसरीअखबार )देश में लव जिहाद को लेकर एक नई बहस छिड़ी है. उत्तर प्रदेश (लव जिहाद) और मध्य प्रदेश सरकार (लव जिहाद) इस पर कानून ला चुकी है।बीजेपी शासित कई अन्य राज्य भी कानून लाने की तैयारी कर रहे हैं। लव जिहाद के मुद्दे पर विपक्षी दल लगातार भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोल रहे हैं।हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि भारत के विधान में लव जिहाद की कोई परिभाषा नहीं है. बीजेपी शासित राज्य संविधान का मजाक उड़ा रहे हैं।असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘भारत के संविधान में कहीं भी लव जिहाद की परिभाषा नहीं है. बीजेपी शासित राज्य लव जिहाद पर कानून लाकर संविधान का मजाक उड़ा रहे हैं। अगर बीजेपी शासित राज्य कानून बनाना ही चाहते हैं तो वे MSP पर कानून बनाएं, रोजगार देने पर कानून बनाएं।उन्होंने आगे कहा, ‘न्यायालयों ने दोहराया है कि भारत के संविधान के तहत, अनुच्छेद 21, 14 और 25 के तहत, किसी भी भारतीय नागरिक के निजी जीवन में किसी भी सरकार की कोई भूमिका नहीं है। बीजेपी स्पष्ट रूप से संविधान के मौलिक अधिकारों का उल्लंघन करने में लिप्त है।और जो भाजपा शासित राज्यों में विपक्ष में दलों के विधायक पदाधिकारी नेता जो इस कानून के बदलाव में साथ दे रहे हैं वे मानसिक रूप से मंदबुद्धि मानसिकता के है जो भाजपा राज्य सरकार में विपक्ष की भूमिका में हैं जो आम जनता के लिए इस कानून के विरोध में आवाज नहीं उठाई। 


टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा। पुलिस ने गुंडों के खिलाफ चलाया विशेष अभियान , पुलिस शराब की दुकान के सामने खड़ी करें डायल 100 जिससे शराबियों में भी रहेगा पुलिस का खौफ अपराधो पर लगेगा प्रश्न चिन्ह।
चित्र
दतिया।दतिया का विकास का रथ अब नहीं रुकेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान, मुख्यमंत्री जी ने रचा इतिहास --डा मिश्रा।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
भोपाल।शिकायतों के आधार पर हटेंगे कर्मचारी तीन वर्ष से एक ही स्थान पर जमे हैं अफसरों के तबादले पर चुनाव आयोग की राहत।
चित्र
बहुजन समाज को जागरूक करने वाले मासीह मान्यवार कांशीराम साहब जी का जन्म दिन 87वे 15मार्च को , बहुजन समाज को भारत सरकार से भारत रत्न की मांग करना चाहिए।
चित्र