डबरा की जनता का दुर्भाग्य कहूं या हमारा नसीब ,हम विकास के लिए सोचते है लेकिन जनता गलत कर लेती है लेकिन फिर भी हम डबरा शहर में विकास कार्य कराएंगें प्रस्ताव लिए हमरा समय तीन साल धनदेते देते निकल जाये-- गृहमंत्री डा नरोत्तम मिश्रा।

डबरा।(

एम एस बिशौटिया पंचमहलकेसरी 9425734503)डबरा कि जनता का दुर्भाग्य है जो सोचते हैं वह हो नहीं पता हर दाम ग़लत विचार कर लेते हैं विकास कोई कसर नहीं छोड़ते लेकिन फिर भी डबरा का विकास करायेगा, जब में डबरा में नवग्रह मंदिर पर माला हाथ से फेरुगा तब लोग मुझसे भी सवाल करेंगे कि आपने डबरा के क्या किया। तब मेरी भी नजरें झुकेंगी। इतना ऊपर आने के बाद हम वहां तक नहीं पहुंच पाए, जहां हमारे डबरा की इच्छा हो। यह सोचकर मन अंदर से मेरा भी कचोटेगा। इसलिए आप आने वाले कल को लेकर सुनहरे सपने देखें। बार की ओर से इतने प्रस्ताव बनाकर भेजें, जिनके लिए धनराशि देते-देते हमारे तीन साल निकल जाएं। हमारे झंडे डंडे और एजेंडे अलग हो पर विकास के लिए एक रहें।लोकार्पण समारोह में गृहमंत्री ने कहा कि डबरा में एक दिक्कत है मत एकता की। जो मत एकता यहां नहीं है। हम कहां पिछड़ रहे हैं, इसका भी अवलोकन करें। भले ही हमारे झंडे, डंडे और एजेंडे अलग हो, पर डबरा के विकास की बात आए तो सब विकास के लिए एक हो जाएं। जिस तरह से दतिया में विकास हुआ है, उसी तरह से डबरा में भी विकास हो सकता है। उन्होंने कहा कि अगर बार का कोई प्रस्ताव पूर्व का होता, तो उसके लिए अभी धनराशि दे देता, लेकिन एक भी प्रस्ताव नहीं है। इसलिए कुछ नया करने की सोचते रहें।डबरा न्यायालय में सांसद निधि से निर्मित पुस्तकालय भवन का लोकार्पण समारोह में मुख्य अतिथि प्रदेश के गृह और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने कही। समारोह में गृहमंत्री ने सभी अधिवक्ताओं से कहा कि अगर आपने तीन लाख रुपए पुस्तकालय के लिए मांगे हैं, तो दिए। बना लो आप। उन्होंने कहा कि डीजे साहब से प्रार्थना है कि न्यायालय भवन की दूसरी मंजिल बनवाने की अनुमति भेज दें। इसके लिए जितना भी धन लगेगा, 10 से 20 करोड़ दे देंगे। इस अवसर पर जिला एवं सत्र न्यायाधीश दीपक कुमार अग्रवाल, सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने भी अपने विचार व्यक्त किए कहा प्रधानमंत्री जी 2022 तक विकास के लिए वजट नहीं कोविड 19मे खर्च हो रहा है जिससे कोविड खत्म हो इसलिए विकास के लिए विकास वजट आयेगा हम देने के लिए तैयार रहेंगे जिससे डबरा का विकास हो।इस दौरान भाजपा के ग्वालियर ग्रामीण अध्यक्ष कौशल शर्मा, अभिभाषक संघ अध्यक्ष शंभू दयाल बंसल, सचिव हेमंत शर्मा सह सचिव श्रीराम पटसरिया, कोषाअध्यक्ष देवेंद्र सिंह राणा, पुस्तकालय अध्यक्ष रामेंद्र सिंह परमार, शासकीय अधिवक्ता ग्वालियर अनिल शुक्ला, उमाशंकर शिवहरे, कृष्ण स्वरूप षटधर, धमेंद्र यादव, अवधकिशौरमौर्य,अन्य अभिभाषक गण उपस्थित रहेइस अवसर पर डबरा अभिभाषक संघ के पूर्व सचिव उमाशंकर शिवहरे ने गृहमंत्री को दिए ज्ञापन शुक्लहारी में पुलिस चौकी की जगह थाना बनाए जाने की मांग की है। ज्ञापन में कहा है कि गिजोर्रा थाने के अंतर्गत आने वाली पुलिस चौकी शुक्लहारी को थाना बनाया जाए। गिजोर्रा थाने में 30 से 40 गांव आते हैं। शुक्लहारी में बिल्डिंग प्रशासन ने बनाई है, वह थाने के लिए बेहतर हो सकती है।

Comments
Popular posts
डबरा/बिलौआ। प्रधानमंत्री आवास योजना में 7 पटवारी एवं तीन कर्मचारी दोषी अब देखना है क्या दोषियों को ईओडब्ल्यू जांच करेगा इन दोषियों की चल अचल संपत्ति की ।
Image
डबरा।कवि रज्जन जी की चौदहवीं पुण्यतिथि पर कवि गोष्ठी व सम्मान समारोह संपन्न।
Image
डबरा।एसडीएम प्रदीप कुमार शर्मा गांव धई से सरकारी भूमि को कब करायेगे मुक्त पटवारी आर आई की लापरवाही।
Image
भोपाल।समय-सीमा में पूरी करें नगरीय निकाय निर्वाचन की तैयारीआयुक्त राज्य निर्वाचन आयोग श्री सिंह ने समीक्षा बैठक में दिये निर्देश।
Image
भितरवार।सरपंच, सचिव, रोजगार सहायक ने बच्चों के नाम से जॉब कार्ड बनाकर सरकार को लगाया चूना, ईओडब्ल्यू ने दर्ज की एफआईआर दर्ज। लेकिन पुलिस ने नहीं किये गिरफ्तार क्यो ?
Image