पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर झूठी एफआईआर दर्ज करना शिवराज सिंह चौहान जी छोटी मानसिकता--नीधी शर्मा।
 पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पर झूठी एफआईआर दर्ज करना शिवराज सिंह चौहान जी छोटी मानसिकता--नीधी शर्मा।
ग्वालियर। भारतीय जनता पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी ने  पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी पर जो एफआईआर दर्ज कराई है । राजनैतिक  मुद्दे पर कुछ चर्चा नहीं हो और जनता को सच्चाई उजागर ना हो इसलिए यह कदम भाजपा के नेताओं ने उठाया है इससे कांग्रेस पीछे नहीं हाट सकती  अगर कोरोनावायरस से इंडियन वैरिएंट वाले बयान पर भाजपा ने  आवेदन देकर  एफआईआर दर्ज कराई है तो सबसे पहले वे  जो लिख रहे हैं कई बेवसाइट्स ने लिखा उसे पढ़ने पर बोले है ना कि देश प्रति कोविड महामारी के  जो लोग मर रहे हैं कमलनाथ जी ने उन दोषीयो  के खिलाफ आवाज उठाई है तो कांग्रेस के नेताओं पर झूठी एफआईआर दर्ज करना यह ग़लत और छोटी मानसिकता है यह बात  महिला कांग्रेस प्रदेश सचिव मध्य प्रदेश की श्रीमती नीधी शर्मा ने कहा उन्होंने यह भी कहा अगर सरकार कोविड महामारी से निपटने में सक्षम नहीं है इसलिए मरने वालों के आंकड़े छिपाने का  काम क्यो कर रही है पुरे मध्य प्रदेश में महिलाओ को पुलिस रोकोटोको के माध्यम से मारपीट कर रही है और झूठी हर रोज हर थानेमें एफआईआर दर्ज कर रही है जो भाजपा का नेता है वह सारे आम कोविड महामारी फैलने की बिना परवाह किए दतिया ग्वालियर में नेतागिरी लोगों से मुलाकात कर रहे हैं यह महामारी फैलने काम और नाकारापन के कारण जाने जा सकती है इनपे भी एफआईआर दर्ज होना चाहिए।
टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र