पंजाब मे अनुसूचित जाति के जाटव( रविदसिया समाज )के कांग्रेस से नय मुख्यमंत्री रुप में चरनजीत सिंह चन्नी लेंगे शपथ ।
 पंजाब मे अनुसूचित जाति के जाटव समाज के कांग्रेस से नय मुख्यमंत्री रुप में चरनजीत सिंह चन्नी लेंगे शपथ ।

पंजाब। कांग्रेस का पुरे भारतवर्ष में बहुत ही नीचे ग्रप गिर जाने से राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी व राहुल गांधी ने विशेष मंथन कर कांग्रेस को पुरे भारतवर्ष में मजबूती देने के लिए अब पंजाब से दलित कार्ड खेलना शुरू किया है इससे आने वाले समय में कांग्रेस को उत्तर प्रदेश मध्यप्रदेश अन्य राज्यों में बढ़ोतरी होगी । पंजाब में  कैप्टन सिंह मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद नय मुख्यमंत्री के रुप सरगर्मी तेज हो गई थी राष्ट्रीय श्रीमती सोनिया गांधी जी किसको ताजपोशी करेंगी कांग्रेस के सभी विधायक की नजर थी लेकिन सोनिया गांधी व राहुल गांधी हरीश रावत जी के मंथन के बाद पूर्व मंत्री व तीन बार के विधायक अनुसूचित जाति से जाटव समाज के सरल सहज लोकप्रिय विधायक चरनजीत सिंह चन्नी को  नय मुख्यमंत्री के रूप में घोषित कर दिया अब नय मुख्यमंत्री पंजाब के मुख्यमंत्री होंगे  चरनजीत सिंह चन्नी के मुख्यमंत्री बनने के बाद कांग्रेस मध्यप्रदेश में उत्तर प्रदेश में चुनाव में बढ़ोतरी करने के लिए यह कार्ड खेला है । जीवनी, चरणजीत सिंह चन्नी कौन है। चरणजीत सिंह चन्नी का जन्म 01.मार्च 1963 को हुआ था। चरणजीत सिंह चन्नी (बीए, एलएलबी और एमबीए) डॉ कमलजीत कौर बच्चे-पुत्र नवजीत सिंह, रिदम सिंह, चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के एक भारतीय राजनीतिज्ञ हैं।  कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री। वह पंजाब से एक भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब के नए मुख्यमंत्री के रूप में चुना गया है।  वह पंजाब सरकार में तकनीकी शिक्षा और औद्योगिक प्रशिक्षण के पूर्व मंत्री थे। 19 सितंबर 2021 को वे अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री बने, वे चमकौर साहिब विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर(एम एस बिशौटिया संपादक)फूल सिंह बरैया की बेटी की शादी का अनोखा कार्ड चर्चा में।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र