डबरा।ओलावृष्टि से हुए नुकसान का आंकलन करने कलेक्टर सहित जिला प्रशासन के दल प्रभावित गाँवों में पहुँचे।
 

ओलावृष्टि से हुए नुकसान का आंकलन करने कलेक्टर सहित जिला प्रशासन के दल प्रभावित गाँवों में पहुँचे।

74 गाँवों में करीबन 9,800 हैक्टेयर रकबे में नुकसान का अनुमान


 डबरा। ग्वालियर जिले में शनिवार को हुई ओलावृष्टि एवं असमय वर्षा से 74 गाँवों की फसलें प्रभावित हुई हैं। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के निर्देश पर राजस्व अधिकारियों के दलों ने ओलावृष्टि से प्रभावित गाँवों में प्रारंभिक सर्वे का काम शुरू कर दिया है। कलेक्टर श्री सिंह ने डबरा तहसील के सिमिरिया ताल व घाटीगाँव के पाटई सहित अन्य दूरस्थ गाँवों में पहुँचकर फसलों को हुई क्षति की वस्तुस्थिति जानी। अपर कलेक्टर श्री एच बी शर्मा सहित जिला प्रशासन के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी प्रभावित गाँवों में पहुँचे। कलेक्टर श्री सिंह ने सर्वे के लिए संयुक्त दलों का गठन कर दिया है। साथ ही सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि असमय वर्षा और ओलावृष्टि से प्रभावित फसलों का सर्वेक्षण पूरी पारदर्शिता और संबंधित किसानों को विश्वास में लेकर करें। सर्वेक्षण दल प्रारंभिक आंकलन के लिए रविवार को प्रभावित गाँवों में पहुँचेे। जिला प्रशासन द्वारा कराए गए प्रारंभिक आंकलन के अनुसार ओलावृष्टि से जिले के डबरा, भितरवार व घाटीगाँव क्षेत्र के 74 गाँवों में करीबन 9 हजार 800 हैक्टेयर रकबे की फसल को नुकसान पहुँचा है।  लगभग 30 करोड़ रूपए की क्षति का अनुमान लगाया गया है। घाटीगाँव जनपद पंचायत क्षेत्र के अंतर्गत 20 गाँवों के लगभग 2 हजार 800 हैक्टेयर क्षेत्र की फसल ओलावृष्टि से प्रभावित हुई है, जिसकी अनुमानित फसल हानि लगभग 8 करोड़ 36 लाख रूपए आंकी गई है। इसी तरह डबरा क्षेत्र के 39 गाँवों की लगभग 4 हजार हैक्टेयर में लगभग 12 करोड़ रूपए की फसल हानि और भितरवार क्षेत्र के 15 गाँवों की करीबन 3 हजार हैक्टेयर रकबे में लगभग 9 करोड़ रूपए के नुकसान का आंकलन प्रारंभिक सर्वे में सामने आया है।कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने डबरा तहसील के सिमिरिया ताल व घाटीगाँव के पाटई सहित अन्य दूरस्थ गाँवों में फसलों को हुई क्षति का जायजा लेने के दौरान किसानों से रूबरू होकर भरोसा दिलाया कि ओलावृष्टि से प्रभावित फसल का जल्द से जल्द सर्वे कराकर आरबीसी 6 - 4 (राजस्व पुस्तक परिपत्र) के प्रावधानों के तहत राहत राशि मुहैया कराई जायेगी। साथ ही पात्र किसानों को फसल बीमा राशि का भुगतान भी कराया जायेगा।अपर कलेक्टर श्री एच बी शर्मा ने उप संचालक कृषि श्री एम के शर्मा के साथ भितरवार जनपद पंचायत क्षेत्र के रिठौदन, करहिया, ईंटमा व मेहगाँव सहित अन्य ग्रामों और डबरा क्षेत्र के ओला प्रभावित गाँवों का जायजा लिया। इसी तरह एसडीएम डबरा, भितरवार, घाटीगाँव तथा इन सभी क्षेत्रों के तहसीलदार, नायब तहसीलदार, आरआई व पटवारी भी ओलावृष्टि से फसल को हुई क्षति का प्रारंभिक आंकलन करने अपने-अपने क्षेत्र के गाँवों में पहुँचे। साथ ही कृषि विभाग के मैदानी अधिकारी व कर्मचारी भी फसल नुकसान का आंकलन करने के लिये दिन भर क्षेत्र के भ्रमण पर रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र