ग्वालियर जिला कलेक्टर ने की नागरिकों से सावधानी बरतने की अपील।

कलेक्टर ने की नागरिकों से सावधानी बरतने की अपील

ग्वालियर(एम एस बिशौटिया)कोविड-19 की तीसरी लहर का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। संक्रमण की रोकथाम के लिये कोविड अनुरूप व्यवहार और सावधानियां नितांत आवश्यक हैं। शहर के नागरिक कोविड अनुरूप व्यवहार करें और घर से बाहर निकलते समय मास्क अवश्य पहनें। इसके लिये जन जागरूकता अभियान निरंतर चलाया जा रहा है। समझाइश के बाद भी जो लोग कोविड अनुरूप व्यवहार नहीं कर रहे हैं और बिना मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग के घूम रहे हैं उनके खिलाफ चालान की कार्रवाई और खुली जेल में भेजने का कार्य भी प्रशासन द्वारा किया जा रहा है।शनिवार को चलाए गए विशेष जागरूकता अभियान में 431 व्यक्तियों का चालान कर 35 हजार 650 रूपए का जुर्माना वसूल किया गया। इसके साथ ही 6 लोगों को खुली जेल में रखने की कार्रवाई भी की गई। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह की पहल पर एनसीसी गर्ल्स एवं बॉयज तथा एनएसएस के गर्ल्स एवं बॉयज द्वारा शहर के प्रमुख स्थानों पर जन जागरूकता अभियान चलाया गया।जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ एनसीसी और एनएसएस के बालक-बालिकाओं ने शहर के प्रमुख स्थानों पर रोको-टोको अभियान चलाया और बिना मास्क के घूम रहे लोगों को मास्क पहनने की समझाइश भी दी। दो पहिया वाहनों पर बिना मास्क के घूमने वाले लोगों को रोककर मास्क पहनाए गए। इसके साथ ही उनसे चालान की राशि भी वसूल की गई। एनसीसी एवं एनएसएस के बच्चों ने लोगों को विनम्रता से समझाया कि कोरोना संक्रमण के दौर में सावधानी आवश्यक है। उन्होंने यह भी कहा कि आपकी लापरवाही से और लोगों को नुकसान होगा।कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने भी जिले के नागरिकों से अपील की है कि संक्रमण के इस दौर में किसी भी प्रकार की लापरवाही लोग न बरतें। अनावश्यक रूप से घर के बाहर न निकलें और जरूरी हो तो मास्क पहनकर ही निकलें। भीड़भाड़ वाली जगह पर न जाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य करें। किसी भी व्यक्ति को कोविड का कोई लक्षण है तो वह तत्काल निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर अपना स्वास्थ्य परीक्षण अवश्य कराए।कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने यह भी अपील की है कि कोविड से बचने का सबसे सशक्त उपाय टीकाकरण है। जिन लोगों ने अभी-भी टीकाकरण नहीं कराया है वे टीकाकरण अवश्य कराएँ। इसके साथ ही 15 वर्ष से 18 वर्ष तक के बालक-बालिकाओं के टीकाकरण को भी गंभीरता से लें। नागरिक अपने बच्चों का टीकाकरण अवश्य कराएं।

टिप्पणियाँ