संविधान नही बदलने देंगे। क्रांति की मशाल बुझाने नहीं देंगे।
 संविधान बदलने नहीं देंगे *
क्रान्ति की मशाल बुझने नहीं देंगे,
मजलूमों का हक़ छीनने नहीं देंगे,
मरना गँवारा है वतन के लिए,
तिरंगे को कभी झुकने नहीं देंगे।
जातपांत की सियासत करने नहीं देंगे
कौम को आपस में बांटने नहीं देंगे,
लाख कोशिश कर लो तुम नादानों,
मनु का विधान चलने नहीं देंगे।
तहज़ीब के बंधन टूटने नहीं देंगे,
प्रजातंत्र की नींव हिलने नहीं देंगे,
राह में कितने भी बवंडर आएँ,
खुद का स्वाभिमान बिकने नहीं देंगे।
विचारों की सरिता सूखने नहीं देंगे,
मुल्क़ को नफ़रत में जलने नहीं देंगे,
कितनी भी ताक़त लगालो कांटे उगाने वालों,
ज़ालिमों की दहशतगर्दी चलने नहीं देंगे।
भीमजी का कारवां रुकने नहीं देंगे,
बुध्द की धरती को छलने नहीं देंगे,
लगानी पड़े चाहे जान की बाज़ी,
भारत का संविधान बदलने नहीं देंगे।
-----------------------------------------------
कवि- एस. आर. शेंडे, सौंसर, छिंदवाड़ा, मध्यप्रदेश, पिन-480106, व्हाट्सएप-8103681228
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। डा अम्बेडकर की प्रतिमा को रात्रि में अज्ञात लोगों ने किया खंडित अज्ञात व्यक्तियों के नाम एफआईआर दर्ज,रखी जायेगी नई प्रतीमा- एसडीएम खेमरिया।
चित्र
डबरा।डा अंबेडकर जी की प्रतिमा का अनावरण समारोह 16अक्टूवार 22 गांव सिसगांव में ।
चित्र
ग्वालियर।एसपी ग्वालियर ने सेवानिवृत्त हुए पुलिस अधिकारी व कर्मियों को दी भावभीनी विदाई।
चित्र
झांसी।कांग्रेस ने खेला कार्ड बहुजन नेता ब्रजलाल खाबरी पूर्व सांसद को बनाया उत्तर प्रदेश का प्रदेश अध्यक्ष ।
चित्र
ग्वालियर।बामसेफ, डीएस-4 बसपा के संस्थापक बहुजन नायक मान्यवर कांशीराम साहब जी के 16 वें महापरिनिर्वाण दिवस पर जिला स्तरीय श्रध्दांजलि सभा 9 अक्टूबर 22 को---सतीश मंडेलिया
चित्र