6वां गोपाल किरन समाजसेवी संस्था का ग्लोबल कॉन्क्लेव व अचीवर्स अवार्ड अहमदावाद मैं सम्मानित -- सदैव सकारात्मक रहे -श्री मीणा



अहमदाबाद गुजरात/ गोपाल किरण समाज सेवा संस्था ग्वालियर द्वारा  छठवां  ग्लोबल कॉन्क्लेव और डॉ. भीमराव आंबेडकर  अचीवर्स अवार्ड का आयोजन अहमदाबाद मैनेजमेंट एसोसियशन के सभागृह में आयोजित किया गया।कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन के बाद अतिथियों के स्वागत के साथ शुरू हुई।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उदयपुर से श्री कैलाश चन्द्र मीणा (DFO) जी  विशेष रूप से इस कार्यक्रम मे अपनी धर्मपत्नी श्रीमती संतोष मीणा जी के साथ उपस्थित रहे उन्होंने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि हमें निष्ठापूर्वक अपने कार्यो को करना चाहिए ताकि एक नई शुरुआत हो सके, सदैव सकारात्मक सोच रखें। संविधान दिवस का महत्व समझाते हुये कहा कि समता,स्वतंत्रता बंधुत्व ,न्याय पर आधारित भारतीय समाज बनाये जाने के लिए संविधान को पवित्र ग्रंथ मानकर उस पर लोगों को चलना होंगा। कार्यक्रम के प्रारंभ में *भारतीय संविधान* की उद्देशिका का वाचन कराया। देश के चुनिंदा शिक्षको, साहित्यकारों, समाजसेवी, आदि को सम्मानित किया गया। देश को विकसित राष्ट्र बनाना है तो ऐसे नवरत्नों की जरूरत होगी। कार्यक्रम के दौरान सभी को डॉ. बी. आर. अंबेडकर ग्लोबल अचीवर्स अवार्ड से नवाजा गया। श्री मीणा ने आगे कहा है कोइ भी शहर, राज्य या देश उस क्षेत्र की विभूतियों व क्षमतावान नवरत्नों के योगदान व आधार पर ही महान बनता है और उनकी मेहनत ओर क्षमता की आधार पर ही वे सम्मान के अधिकारी बनते है। आज जिनको सम्मान मिल रहा वे देश के हीरो व हीरे हैं। समाज के अनसंग हीरों को हीरे की हीरे की तरह ढूंढ निकालने व सम्मानित करने के लिए गोपाल किरन संस्था बधाई की पात्र है। गोपाल किरन संस्था ने इसकी शुरुआत वर्ष 2018 मैं की थी ।भारतीय संविधान की अनुपालना एवं निष्ठापूर्ण समर्पण करने की प्रतिज्ञा ली गई। डा. बाबासाहब अम्बेडकर जी ने 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन में संविधान बनाकर आज के ही दिन 26 नवम्बर 1949 को देश को सौपा था। गृह मंत्रालय भारत सरकार नई दिल्ली से पधारे ओमप्रकाश अहिरवार ने देश के नागरिंकों से अपील की है कि अपने अधिकारों की जानकारी प्राप्त करने संविधान को अपने घर जगह देनी होगी। श्री कटक उड़ीसा से पधारे डॉ. मोहम्मद ओसामा ने कहा संविधान में प्राप्त अधिकारों से लोगों को न्याय की उम्मीद बनी रहती है। संविधान अच्छा नही होता तो देश में अराजकता फैल गई होती। उन्होंने जीवन जीने के मूल मंत्र पर चर्चा की। उन्होंने तीन मूलमंत्र भी बताए कि हमें स्वंय को पहचानना होगा।स्वयं को स्वीकार करना होगा और दूसरो को भी बिना शर्त स्वीकार करना होगा। जिससे हम सब स्वस्थ्य रहे ।अहमदाबाद साहित्य अकादमी के डॉ. सुनील कुमार जैन ने सभी नवाचारी शिक्षकों को आभार व्यक्त किया जिन्होने समाज के हित मे कार्य किया। और संविधान कैसा बनाया गया इस पर भी प्रकाश डाला। लोक शिक्षण संचलानलय भोपाल के विषय विशेषज्ञ डॉ वी.के. सिह चौरसिया ने अपने उद्बोधन में कहा कि शिक्षा एक ऐसा मंन्त्र है जो समाज के अन्धकार को दूर करता है। शिक्षक राष्ट्र निर्माता है। हम सबको सविधान के दिशा निर्देशों के अनुसार कार्य करना चाहिए । कार्यक्रम के आयोजक व गोपाल किरन समाजसेवी  संस्था अध्यक्ष श्रीप्रकाश सिंह निमराजे ने संस्था के कार्य व उद्देश्य पर  चर्चा करते हुए कहा कि देश की आम जनता को संविधान के अधिकार के प्रति जागृत करना देश के शासक की नैतिक जिम्मेदारी एवं कर्तव्य होता है, क्योंकि हर देश का संविधान अपने देश को संचालित करने वाला कानून तथा मानवीय मूल्य का प्रतीक होता हे। आम जनता का जीने का फरमान तथा देश की पहचान होता है। लेकिन शासन ने आज तक इस विषय पर ज्यादा ध्यान नहीं दिया है जो होना  चाहिए और ना ही किसी प्रकार का सविधान जागृति के लिए शासकीय उपक्रम बनाकर चलाने का प्रयास किया है। इसके कारण आम जनता सविधान एवं सविधान के मूलभूत अधिकार के जागरुकता के प्रति जो जागृति होनी चाहिए उससे  वंचित रहा, जिसके कारण झूठे आडंबर अंधश्रद्धा सामाजिक  एवं मानसिक गुलामी से मुक्त नही हो पाए संविधान जन जागरण अभियान चलाने का  उद्देश्य है।कि आम जनता को संविधान के अधिकार के प्रति जागरूक करना संविधान का अर्थ क्या है ? संविधान के मूलभूत अधिकार क्या है ? संविधान ने हमें क्या दिया? संविधान का हमारे जीवन में महत्व क्या और संविधान के प्रति हमारे कर्तव्य क्या है ? जब तक आम जनता को समझाएंगे नहीं ,आम जनता को समझ में नही आयेगा । संविधान के प्रति जिज्ञासा जागृत होगी तो हमारा भविष्य सुरक्षित बचेगा। संविधान की जानकारी आम जनता तक पहुचे और संविधान दिवस को यादगार बनाने के लिये सविंधान सप्ताह मनाना तय किया।उस दिन के उपलक्ष में 6वा  ग्लोबल कॉन्क्लेव अचीवर्स अवार्ड का आयोजन किया गया।
उक्त एक दिवसीय राष्ट्रीय परिचर्चा कार्यक्रम में पूरे देश से 12 जनपदों और 10 प्रान्तों से 96 बहु-प्रतिभाशाली शिक्षकों, समाजसेवको एवं साहित्यकारों को शिक्षा, साहित्य,कला, संस्कृति, आजीविका, प्राकृतिक संसाधनों पर आधारित नवाचार करने वाले विभूतियों का “ग्लोबल कॉन्क्लेव और डॉ. भीमराव आंबेडकर  अचीवर्स अवार्ड-2022” से सम्मानित किया गया | उद्घाटन सत्र के पश्चात देश के विभिन्न प्रान्तों से आये प्रतिभाशाली विद्वानों का परिचय श्रीमती मुक्ता सिकरवार द्वारा करवाया गया। स्वागत गीत गोपाल किरण समाज सेवा संस्था की सचिव श्रीमती जहाँआरा ने किया | 
उक्त कार्यक्रम में साहित्यकर श्री गुलाबचंद्र पटेल जी द्वारा रचित “आषाढ़ के बादल” काव्य संग्रह  और डॉ. वी.के.चौरसिया के पुस्तक “अनुभूति” का विमोचन किया गया।सत्र के मध्य में सभी ने वर्तमान में शिक्षण में आने वाली चुनौती शिक्षकों की समस्याओं एवं उनके समाधान पर परिचर्चा के माध्यम से एक दूसरे के विचारों को सुना।और उस पर के प्रकोष्ठ बनाकर उनका समुचित रूप से निवारण करने हेतु कृत संकल्प किया। एक राष्ट्रीय स्तर पर शिक्षक प्रकोष्ठ की घोषणा की गई। उपस्थित प्रतिभागियों को चार ग्रुप  श्रीमती अर्चना रानी (जौनपुर) श्रीमती सुनीता श्रीवास्तव (सुल्तानपुर), कल्पना शाह, कविता वर्मा (गाजियाबाद), चेतना जोशी के नेतृत्व में संचालित किया गया। उनके द्वारा व नवजीत ने अतिथियों का स्वागत किया। खेमपाल सिंह, पीलीभीत, दौलतराम कश्यप छत्तीसगढ़,ऋतेश पंवार आदि ने अपने विचार रखे।श्रीप्रकाश सिंह निमराजे,अध्यक्ष ,गोपाल किरन समाजसेवी संस्था को सुल्तानपुर से पधारी श्रीमती सुनीता श्रीवास्तव ने चांदी का सिक्का,रसिया से लाई गई भगवान बुद्ध की तस्वीर व गुलाब चन्द्र पटेल द्वारा अमेरिका से लाये गए मानचित्र से सम्मानित किया गया |कार्यक्रम का संचालन मुक्ता सिकरवार ग्वालियर, ने किया और अपनी स्वरचित गजल प्रस्तुत की वही कवयित्री/ शिक्षिका; अन्नपूर्णा मालवीया (सुभाषिनी) संस्कृत (प्रवक्ता) गौरी पाठशाला इंटर कॉलेज, प्रयागराज, उत्तर प्रदेश ने प्रस्तुति दी। 
कार्यक्रम  डॉ. गुलाब चंद पटेल,साहित्य, सामाजिक ,गुजरात,श्री श्याम सिंह राठौर,शा. मा. विद्यालय,ग्वालियर ,जेनेट बेन व्ही सोलंकी (जेनेट क्रिश्चियन ) अहमदाबाद,श्री जयसुखभाई लालजीभाई जीकादरा, शिक्षक,शाखपुर कन्या प्राथमिक शाला, ता. लाठी, डी. अमरेली, गुजरात,सुनीता श्रीवास्तव, प्रधानाअध्यापक,प्राथमिक विद्यालय  तमेहड़ी,ब्लॉक-दूबेपुर , सुल्तानपुर अर्चना रानी ,सहायक अध्यापक,कांपोजिट विद्यालय,पंचहटिया, धर्मापुर,जौनपुर,उ.प्र, तेजेन्द्र कुमार ब्रह्मभट्ट, पाटन,श्री रमेश सिंह बिष्ट, व्याख्याता,नैनीताल, उत्तराखंड
डॉ. शोभनाथ दास, शिक्षक, भागलपुर, बिहार,जाहिद भाई रहीमतुल्ला, डॉ. व्ही. के. सिंह चौरसिया, लोक शिक्षण संचालनालय ,भोपाल मध्य    प्रदेश,. प्रतिभा भट्ट ,श्रीमती कल्पना शाह, शिक्षिका, प्रा,वि, रामपुरा, वि,ख, कुक्षी, जिला-धार, मध्यप्रदेश,कान्ति स.अ.उच्च प्राथमिक विद्यालय, उमराराही, रायबरेली,उ.प्र.श्रीमति शिप्रा सिंह, सहायक  अध्यापक,प्राथमिक विद्यालय,अहिमाने ब्लॉक- दूबेपुर जनपद सुल्तानपुर ,उ. प्र.,सुनील कुमार सिंह, प्रधानध्यापक,प्राथमिक विद्यालय, देइन, ब्लॉक- दूबेपुर स्कूल ,सुल्तान पुर,उ. प्र.राजेशसिंह प्रधानाध्यापक,
मॉडल स्कूल इंग्लिश मीडियम  प्राथमिक विद्यालय, सेमरा, अमेठी,उत्तर प्रदेश, डो़ प्रदीपसिंह सिंघा,जिल्ला - नर्मदा,राज्य - गुजरात,डॉ.शेलश
व्ही.ब्रह्मभट्ट, सहायक प्राध्यापक,वन्दना जाधव ,माध्यमिक शिक्षक,शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक शाला हरसूद,अभिनव स्कूल के पास,  हरसूद, जिला खण्डवा, मध्यप्रदेश,.डॉ. चेतना जोशी,जानकी सन्नी कुमार पटेल,सहायक शिक्षक, सिंगरवा प्राथमिक  विद्यालय ,दस्करोई, अहमदाबाद, गुजरात, सुरेश भाई ए च पटेल. सुरेशभाई लुणावाडा,महासागर ,गुजरात,सुरेशभाई बाबुभाई धोरिया, ब्लॉक - चुड़ा, सुरेंद्र नगर,गुजरात,सरोजबाला अहिरवार, बागपत,
किरन सिंह बदुभाई चावड़ा ,प्रधान शिक्षक , दाहोद, गुजरात,ममताश्रीवास्तव , प्रधानाध्यापक ,चौकीपुर ब्लॉक धर्मापुर जौनपुर , दिप्तीबहन धीरजकुमार  जोषी,उप शिक्षक, श्रीबालसासन प्राथमिक शाला,जिला- महेसाणा (गुजरात),.श्रीमति कमला सिंह, प्राचार्य, सुल्तानपुर,उ. प्र.डॉ. विलाश अम्बादास सालुंके,, सहायक प्राध्यापक. श्री रमेश कुमार चौरसिया, प्रधानाध्यापक प्राथमिक विद्यालय बैरागल विकास क्षेत्र दुबौलिया जनपद बस्ती,विनय कुमार,सीमा श्रीवास्तव, सुल्तानपुर, नीलम मन्ध्यान, अयोधया,डॉ दमयंतीबा  प्रदीपसिंह  सिंघा, राजपीपला,जिला नर्मदा,गुजरात, डॉ. मुक्ता सिकरवार,शिक्षक व साहित्यकार,ग्वालियर ,विनोद कुमार सीताराम दुबे शिक्षक गुरु नानक इंग्लिश हाई स्कूल एंड जूनियर कालेज भांडुप मुंबई महाराष्ट्र,श्री राजकुमार रामलखन यादव,प्रभारी मुख्याध्यापक,ठाणे महानगरपालिका शा.क्र.127,महाराष्ट्र ,वाघेला वर्षा बहन बी,डभासाप्राथमिकविद्यालय,पादरा,वडोदरा,गुजरात,दौलत राम कश्यप ,जिला - कबीरधाम छत्तीसगढ़, अमित भूपेंद्र कुमार दवे,कड़ी, मेहसाणा, एकताकुमारी अनिलभाई भट्ट,नागला सुरेश कुमार धन्नाजी भाई,मोहन सिंह,निरीक्षक,रेडियो पुलिस मुख्यालय ,भोपाल,श्री ओ. पी. अहिरवार,गृह मंत्रालय, भारत सरकार, नई दिल्ली
मो.ओसामा,कटक, डॉ. विजेता सिह चौरसिया, डेण्टल सर्जन - जिला चिकित्सालय रीवा म.प्र,अनीता गौतम, बोदला,आवास विकास कालोनी, आगरा, साहित्यकार एवं टीवी कलाकार,ओमकार पासवान, अल्पा बहन पटेल,आणंद, समाजसेवी,कांतिभाईइश्वर भाईपटेल एडवोकेट,गांधी नगर ,गुजरात, रामेश्वर दास भान,रचनाकार, सामाजिक कार्यकर्ता, गैर सरकारी संस्था, करनाल, हरियाणा,डॉ. मनोज फगवाड़वी,गजलकार, पंजाब, श्रीमती सीमा रंगा, इंद्रा, द्वारका दिल्ली,कुसुम लता, यादव,प्रदेश, अध्यक्ष,आशाबहू,लाखीपुर,दूबेपुर,सुल्तानपुर,उ.प्र.,
डॉ. नरेन्द्र भूषण सिंह ( शिक्षक),जयपुर पर्यावरण व समाज सेवा,शैलेष विनुभाइ परमार, सोशल एवं पर्यावरण एक्टिविस्ट,वडोदरा (गुजरात), श्रीमती रेनू श्रीवास्तव,सहायक अध्यापिका रामकली बालिका इंटर कॉलेज,सुल्तानपुर,डा. संजय श्रीरामजी धोटे
हिंदी  विभाग प्रमुख,यशवंत महाविद्यालय,सेवाग्राम रोड,वर्धा, महाराष्ट्र,दीपाबेन रामदास शिंपी, अध्यापिका एवं पाठ्यपुस्तक समीक्षक ,कवियित्री,लेखिका, समाजसेवी, जि.प.मराठी प्राथमिक विद्यालय नवसारी, गुजरात,घनश्याम परमार,प्राथमिक शिक्षक,शासकीय प्राथमिक विद्यालय कुंडला, तहसील -मनासा,जिला -नीमच,मध्यप्रदेश,सुनील कुमार सिंह, प्रधान अध्यापक अरुण रेखा ओझा, सुल्तानपुर,खेमपाल सिंह, शिशक,पीलीभीत,रामाजी हेमराजजी रोतातर सहायक शिक्षक,किरणकुमारी स.अ.,ऋतेश पंवार,शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय प्रीतमनगर, रतलाम  म.प्र. मंजुला अस्थाना महंती, (से.नि.प्रधानाचार्य, हाईस्कूल, त्रिभाषी लेखिका, भुवनेश्वर,ओडिशा,मोहनलाल गंगवानी अकेलामंदसौर,डॉ. कविता वर्मा (स. अ.) कपोजिट विद्यालय : वैशाली नगर क्षेत्र गाजियाबाद(उ. प्र.)
अशोक कुमार प्रधान अध्यापक,ब्लॉक- दनकौर, गौतम बुद्ध नगर,पंकज कुमार त्यागी,मुजफ्फरपुर, डॉ. दक्षा जोशी,से. नि.प्राचार्यममताप्रीती श्रीवास्तव प्रभारी प्रधानाध्यापक प्राथमिक, विद्यालय,हरपुर,बुदहट ,सहजनवा,गोरखपुर,उत्तरप्रदेश,विभु एन मेहता, बोटाद,
गुजरात,राठवा प्रकाश भाई सोमा भाई,सहायक शिक्षक,
खोडसल प्राइमरी शाला.जाबुधोडा, पंचमहाल
,गुजरात,धर्मेश कुमार जोशी, प्राथमिक शिक्षक जितपुरा प्राथमिक विद्यालय, गोधरा, पंचमहाल,गुजरात,ताराचन्द बुगालिया पुत्र श्री ओमप्रकाश बुगालिया,गांव बासडा पोस्ट मोरेड तहसील परबतसर जिला नागौर राजस्थान विचित्रा वीर बागपत,अनुराधा गौतम, सहायक अध्यापक पूर्व माध्यमिक विद्यालय खिरिया, पाठक सिंधौली शाहजहॉपुर उत्तर प्रदेश, राजन कमलेश कुमार त्रिवेदी,युवा अगरणी - सेक्टर 26,गांधी नगर, गुजरात कान्तिभाई आईपटेल, एडवोकेट,मातृवंदना " प्लोट-183/1 सेकटर-14 ख-रोड महात्मा मंदिर के पास ,गांधीनगर-डॉ. विनोद कुमार शुभ, पाली,भरत कुमार डोरे, कबीरधाम,विनोद कुमार सकवार, कटनी, बिसेलाल सहायक अध्यापक, मनेन्द्रगढ़, छत्तीसगढ़,डॉ. प्रभु श्री माधवलाल चौधरी, उज्जैननरसिंगाराम जीनगर निजरूप पुत्र श्री रूपाराम जी,किशन बाल निकेतन रोङ,अम्बेडकर काॅलोनी बाड़मेर (राजस्थान),आर्या विजय शाह,निवासी- कुक्षी, जिला धार मध्यप्रदेश,.डॉ. अल्पना देशपांडे रायपुर छत्तीसगढ,ग्याराम धुर्वे, धमतरी, छत्तीसगढ़,कवयित्री अन्नपूर्णा मालवीया (सुभाषिनी),संस्कृत (प्रवक्ता) गौरी पाठशाला इंटर कॉलेज, प्रयागराज, उत्तर प्रदेश सुनीता भटनागर, प्रधानाध्यापिका राजकीय प्राथमिक विद्यालय पनिया मेहता,विकास खंड -भीमताल,जिलानैनीताल
रोशन हसन, जहाँआरासृष्टि गुलाटी पुत्री,पिता- प्रवीन गुलाटी,माता- प्रिया गुलाटी,फ़रीदाबाद ,कमला आर्य, प्राचार्य,प्राथमिक विद्यालय सेरा विजयपुर थराली, चमोली आदि कार्यक्रम में उपस्थित रहे।
टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
डबरा।विधायक सुरेश राजे सहित अनेक समाज सेवीयो ने दी जननायक समाज सेवी स्व श्री इन्द्र सिंह राजौरिया को श्रद्धांजलि ।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र