भितरवार।एक्सीडेंट के बाद इलाज के दौरान हुई मौत , डेड बॉडी रखकर परिजनों ने लगाया करियावटी पर जाम। भीम आर्मी आजाद समाज पार्टी के नेतागणो के साथ थाने पहुंचे परिजन । टी आई शर्मा अपराधी को बचाने की कोशिश कर रहे थे क्योंकि एक्सीडेंट करने वाले अपराधी पर बीमा अन्य आदि कागज नहीं है सूत्र।
 

एक्सीडेंट के बाद इलाज के दौरान हुई मौत , डेड बॉडी रखकर परिजनों ने लगाया करियावटी पर जाम।

भितरवार। भितरवार क्षेत्र के बागबई तिराहे के पास मंगलवार को हुए एक्सीडेंट में घायल हुए युवक की इलाज के दौरान मौत हो गई। बुधवार को परिजनों ने डेड बॉडी करियाबटी तिराहे पर रखकर जाम लगा दिया। परिजनों की मांग थी कि दोषियों पर कार्यवाही की जाए। जिसको लेकर जाम लगा दिया लगभग 2 घंटे से ऊपर जाम लगा रहा। दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतारें लग गई तब प्रशासनिक अधिकारियों के काफी देर तक समझाने के बाद परिजन माने तब जाकर जाम खोला और यातायात सुचारु रुप से चालू हो सका।

दरअसल मंगलवार को कालू उर्फ राजेंद्र पिता नारायण जाटव 28 वर्ष निवासी करियावटी भितरवार के पास पेट्रोल पंप पर काम करता था। 27 दिसंबर मंगलवार को वह जा रहा था तभी भितरवार की ओर से जा रही बाइक क्रमांक( एमपी 07 एनक्यू 7894) के बाइक चालक ने राजेंद्र की बाइक में टक्कर मार दी जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। एक्सीडेंट के बाद बाइक चालक मौके से भाग गया। मौके पर उपस्थित लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी पुलिस मौके पर पहुंची और एंबुलेंस की सहायता से उसको भितरवार स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे गंभीर हालत देखते हुए ग्वालियर रेफर किया। देर रात उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई जिसके बाद आज बुधवार को परिजनों ने करियाबटी तिराहे पर शव रखकर जाम लगा दिया। जाम में काफी संख्या में महिलाएं एवं पुरुष थे।परिजनों की मांग थी कि आरोपी पर नाम दर्ज f.i.r. की जाए। लगभग 2 घंटे तक हंगामा होता रहा और रोड के दोनों ओर जाम के कारण वाहनों की लंबी कतारें लग गई।

मामले की गंभीरता को देखते हुए थाना प्रभारी प्रशांत शर्मा मौके पर पहुंचे और परिजनों को समझाने का प्रयास किया लेकिन परिजन मानने को तैयार नहीं थे प्रशासन का कहना था कि इस मामले में पहले ही मामला दर्ज हो चुका है पर परिजनों का कहना था कि आरोपी पर नाम दर्ज एफ आई आर की जाए पुलिस ने आश्वासन दिलाया कि दोषियों पर कार्यवाही की जाएगी उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। जिसके बाद परिजन माने तब जाकर जाम खोला।

टिप्पणियाँ
Popular posts
ग्वालियर। प्रदेश सरकार की शोषणकारी नीति के शिकार अतिथि विद्वान 96 दिन से बरसात और कड़कड़ाती ठंड में फूलबाग चौराहे ग्वालियर मे कर रहे आंदोलन , सरकार का ध्यान नहीं।
चित्र
ग्वालियर।नवागत कलेक्टर श्री अक्षय कुमार सिंह ने कार्य भार संभाला।तहसीलदार से अपर कलेक्टर तक पहुंचे एचपी शर्मा का ग्वालियर से आजतक ताबदला क्यों नहीं ।एक ही जिले मे रिटायरमेंट तक रहेंगे क्या।
चित्र
ग्वालियर/छतरपुर- पशु चिकित्स ने अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह की महिला के साथ किया गलत काम, जेल में सजा कटने के बाद विभाग ने नहीं किया निलंबित विभागों के अधिकारियों एवं नेताओं के आशीर्वाद से पशु डाक्टर धड़ल्ले से कर रहा है नौकरी । पंडित महिला न्यायालय में दर दर भटक रही है।
चित्र
डबरा।विधायक सुरेश राजे सहित अनेक समाज सेवीयो ने दी जननायक समाज सेवी स्व श्री इन्द्र सिंह राजौरिया को श्रद्धांजलि ।
चित्र
जाटव समाज का इतिहास, जाटव यदुवंशी है ।
चित्र