भोपाल।बीजेपी मध्य प्रदेश की 103 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवार तलाश रही है,बदल सकते हैं चहरे भांडेर, डबरा, सेवड़ा भितरवार विधानसभा में कांग्रेस पार्टी दस गुनी मजबूत ।
भोपाल।बीजेपी संगठन पिछली बार की तरह आत्मसंतुष्ट नहीं होना चाहता। इसलिए मध्य प्रदेश के 103 कमजोर विधानसभा क्षेत्रों में मजबूत उम्मीदवारों की तलाश शुरू हो गई है। मध्य प्रदेश में भले ही इन दिनों सरकारी कार्यक्रमों में विकास दिख रहा हो, लेकिन बीजेपी के जमीनी कार्यकर्ताओं से जुड़े नेता जानते हैं कि मध्य प्रदेश के कुछ इलाकों में विकास नदारद है, तो कुछ इलाकों में विकास ने हलचल मचा दी है। हालांकि मध्य प्रदेश में विधानसभा सीटों की संख्या के लिहाज से बीजेपी कमजोर है यह विधानसभा क्षेत्र , श्योपुर, सबलगढ़, सुमावली, मुरैना, दिमनी, भिंड, लहार, गोहद, ग्वालियर पूर्व, ग्वालियर दक्षिण, भितरवार, डबरा, सेंवड़ा, करेरा, पिछोर, चाचौड़ा, राघोगढ़, चंदेरी, देवरी, बंडा, महाराजपुर, राजनगर, छतरपुर, बिजावर, पथरिया, दमोह, गुनौर, चित्रकूट, रैगांव, सतना, सिंहावल, कोतमा, पुष्पराजगढ़, बड़वारा, बरगी, जबलपुर पूर्व, जबलपुर उत्तर, जबलपुर पश्चिम, शहपुरा, डिंडोरी, बिछिया, निवास, बैहर, लांजी, वारासिवनी, कटंगी, बरघाट, लखनादौन, गोटेगांव, तेंदूखेड़ा, गाडरवारा, जुन्नारदेव, अमरवाड़ा, चौरई, सौसर, छिंदवाड़ा, परासिया, पांढुर्णा, मुलताई, बैतूल, घोड़ाडोंगरी, भैंसदेही, उदयपुरा, विदिशा, भोपाल उत्तर, भोपाल दक्षिण-पश्चिम, भोपाल मध्य, ब्यावरा, राजगढ़, खिलचीपुर, सुसनेर, आगर, शाजापुर, कालापीपल, सोनकच्छ, बुरहानपुर, भीकनगांव, बड़वाह, महेश्वर, कसरावद, खरगोन, भगवानपुरा, सेंधवा, राजपुर, पानसेमल, अलीराजपुर, झाबुआ, थांदला, पेटलावद, सरदारपुर, गंधवानी, कुक्षी, मनावर, धर्मपुरी, देपालपुर, इंदौर -1, राऊ, नागदा, तराना, घटि्टया, बड़नगर, सैलाना, आलोट।
भाजपा संगठन को दतिया जिले की भांडेर विधानसभा सीट से विधायक रक्षा सरोनिया पर भरोसा नहीं है क्योंकि जीत का अंतर केवल 161 मतों का था। तब से, विधायक रक्षा सरोनिया ने पार्टी को यह समझाने के लिए कुछ नहीं किया कि उसका वोट आधार बढ़ा है। टीम को एक बार फिर घनश्याम पिरोनिया पर भरोसा है। मध्यप्रदेश बांस एवं बांस हस्तशिल्प विकास बोर्ड को अध्यक्ष द्वारा अधिकार दिया गया है ताकि वह लोगों तक जा सके। शिवपुरी जिले का पोहरी विधानसभा क्षेत्र डेंजर जोन से आगे निकल गया है।यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया को टिकट तय करना है। वह सुरेश ढाक को उपहार देना चाहता है। ऐसे में पार्टी अब कार्यकर्ताओं को सुरेश ढाक के लिए काम करने के लिए प्रेरित करने की कोशिश कर रही है।अशोक नगर विधानसभा सीट के विधायक जजपाल सिंह जज्जी जाति प्रमाण पत्र मामले को लेकर हरा दी पर 2023 के विधानसभा चुनाव के टिकट के लिए निगाहें गड़ाए हुए हैं. यहां ज्योतिरादित्य सिंधिया नए नाम की तलाश में हैं। टीम विकल्पों पर भी विचार कर रही है। पृथ्वीपुर विधानसभा क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के शिशुपाल यादव विधायक हैं, लेकिन स्थानीय कार्यकर्ता उनका जमकर विरोध कर रहे हैं संगठन के नेताओं का मानना ​​है कि राजधानी के पृथ्वीपुर में भी शिशुपाल यादव बीजेपी के लिए स्थाई समाधान नहीं हैं ।वह सपा से भाजपा में शामिल हुए थे। इसलिए पार्टी को यहां एक मजबूत बीजेपी नेता की तलाश है। बीजेपी मध्य प्रदेश की 103 विधानसभा सीटों के लिए उम्मीदवार तलाश रही है। कांग्रेस में जन्मे भाजपा नेता प्रद्युम्न लोधी छतरपुर जिले के बड़ामलहरा निर्वाचन क्षेत्र से विधायक हैं, लेकिन यहां भी तृणमूल कार्यकर्ता दलबदलू के खिलाफ लड़ रहे हैं। पार्टी ने जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं को आश्वासन दिया है कि वे विकल्प तलाश रहे हैं। रायसेन जिले की सांची विधानसभा सीट सिंधिया के कोटे में चली गई है,लेकिन पूर्व मंत्री श्री गौरी शंकर शेजवार अपने बेटे को टिकट दिलाने के लिए लगातार जद्दोजहद कर रहे हैं।देवास जिले का हाटापिपल्या निर्वाचन क्षेत्र कभी मध्य प्रदेश की राजनीति में पवित्रता के प्रतीक श्री कैलाश जोशी की कर्मभूमि हुआ करता था। पार्टी ने उनके बेटे दीपक जोशी को मैदान में उतारा था लेकिन अब यह सीट ज्योतिरादित्य सिंधिया के पास चली गई है। दीपक जोशी ऐसी टीमों के साथ रहने के लिए लगातार संघर्ष कर रहे हैं।खंडवा जिले की मांधाता विधानसभा सीट पर कांग्रेस विधायक नारायण पटेल बीजेपी में शामिल हो गए हैं, लेकिन यहां भी जद्दोजहद और दलबदलुओं की लड़ाई है।कांग्रेस पार्टी की महिला नेता सुमित्रा देवी कासडेकर भाजपा में शामिल हो गईं और बुरहानपुर जिले की नेपानगर विधानसभा सीट से विधायक बनीं। विचारकों और अवसरवादियों के बीच लड़ाई है। अलीराजपुर जिले के जोबट विधानसभा क्षेत्र से भाजपा विधायक सुलोचना रावत की तबियत ठीक नहीं है। टीम यहां नए चेहरों की तलाश कर रही है।
टिप्पणियाँ
Popular posts
कांग्रेस व बसपा को फिर झटका चुनाव में मिलेगा भाजपा को फायदा पूर्व विधायक अजब सिंह कुशवाह,पूर्व विधायक लाखनसिंह बघेल पूर्व जिला अध्यक्ष बसपा सुरेश बघेल भाजपा में शामिल।
चित्र
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
डबरा। दिब्याशु चौधरी बने डबरा तहसील के नय एसडीएम शहर को मिले नए आईएएस अधिकारी।
चित्र
डबरा। नव नियुक्त आईएएस प्रखर सिंह ने एसडीएम कार्यालय पहुंचकर अपना पदभार संभाला क्या शहर में तत्कालीन आईएएस अधिकारी रही सुश्री रेनू पिल्लेई,डा एम गीता जी जैसे तेजास्वी जैसा रुप दिखा पायेंगे या दोनों नेताओं के इशारे पर काम करेंगे।
चित्र
किसान मजदूर युवाओं के हाक अधिकार की लडाई के लिए बनाया नया यूनियन संगठन -ठाकुर गोपाल सिंह ताऊ