मध्य प्रदेश सरकार इसी माह में शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष से एक वर्ष और बढ़ा सकती है 63 वर्ष करने की कोशिश।

 




भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार की आर्थिक स्थिति इस समय मजबूत नहीं है। सूत्रों की बातों पर भरोसा किया जाए तो हालत यहां तक ​​हो गई है कि सेवानिवृत्त हो रहे अधिकारियों को उनकी ग्रेजुएटी और पेंशन  के लिए धनराशि देने में दिक्कत आ रही है। पता चला है कि इसके मद्देनजर मध्य प्रदेश सरकार इसी महीने में शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष के स्थान एक वर्ष और बढ़ा कर 63 वर्ष कर सकती है। भरोसेमंद सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में कभी भी कैबिनेट में प्रस्ताव आ सकता है। सरकार के पास अनुभवी अधिकारियों कर्मचारियों की कमी आ रहीं है । संभवत एक कारण यह भी है। इसलिए यह भी बताया जा रहा है।


 


 


 



टिप्पणियाँ
Popular posts
कांग्रेस व बसपा को फिर झटका चुनाव में मिलेगा भाजपा को फायदा पूर्व विधायक अजब सिंह कुशवाह,पूर्व विधायक लाखनसिंह बघेल पूर्व जिला अध्यक्ष बसपा सुरेश बघेल भाजपा में शामिल।
चित्र
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
डबरा। दिब्याशु चौधरी बने डबरा तहसील के नय एसडीएम शहर को मिले नए आईएएस अधिकारी।
चित्र
डबरा। नव नियुक्त आईएएस प्रखर सिंह ने एसडीएम कार्यालय पहुंचकर अपना पदभार संभाला क्या शहर में तत्कालीन आईएएस अधिकारी रही सुश्री रेनू पिल्लेई,डा एम गीता जी जैसे तेजास्वी जैसा रुप दिखा पायेंगे या दोनों नेताओं के इशारे पर काम करेंगे।
चित्र
किसान मजदूर युवाओं के हाक अधिकार की लडाई के लिए बनाया नया यूनियन संगठन -ठाकुर गोपाल सिंह ताऊ