मध्य प्रदेश सरकार इसी माह में शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष से एक वर्ष और बढ़ा सकती है 63 वर्ष करने की कोशिश।

 




भोपाल। मध्य प्रदेश सरकार की आर्थिक स्थिति इस समय मजबूत नहीं है। सूत्रों की बातों पर भरोसा किया जाए तो हालत यहां तक ​​हो गई है कि सेवानिवृत्त हो रहे अधिकारियों को उनकी ग्रेजुएटी और पेंशन  के लिए धनराशि देने में दिक्कत आ रही है। पता चला है कि इसके मद्देनजर मध्य प्रदेश सरकार इसी महीने में शासकीय सेवकों की सेवानिवृत्ति आयु 62 वर्ष के स्थान एक वर्ष और बढ़ा कर 63 वर्ष कर सकती है। भरोसेमंद सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में कभी भी कैबिनेट में प्रस्ताव आ सकता है। सरकार के पास अनुभवी अधिकारियों कर्मचारियों की कमी आ रहीं है । संभवत एक कारण यह भी है। इसलिए यह भी बताया जा रहा है।


 


 


 



Comments
Popular posts
डबरा।विद्युत विभाग की लापरवाही एक महीने में उपभोक्ता को तीन बार दिया विल अधिकारी कर्मचारी मचा रहे हैं भ्रष्टाचार अधिकारीयो पर इंटेलिजेंट नहीं दे रही ध्यान।
Image
दतिया। गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने ग्राम पालीनूर को दी करोड़ों की सौगातें हर हफ्ते अपनी विधानसभा क्षेत्र को देते हैं विकास कार्य की सौगात, गृह निवास में कोई विकास नहीं घोषणा मात्र।
Image
करैरा।लखीमपुर में हुई किसानों की मृत्यु होने पर उसके परिजनों से मुलाकात करने प्रियंका गांधी वाड्रा को पुलिस द्वारा बंद करने के विरोध में धरना दिया राष्ट्रपति, केंद्रीय गृहमंत्री के नाम एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।
Image
डबरा।भारतीय रेड क्रॉस सोसायटी के कोरोना रक्षक सम्मान पत्र समारोह सम्पन्न ।
Image
डबरा।बाढ़ पीड़ितों के लिए पत्रकारों ने की पहल दिया 1 माह का वेतन ।
Image