स्मार्ट सिटी के तारामंडल में शहरवासी कर सकेगे आकाशगंगा की सैर -श्रीमती जयति सिंह
वर्चुअल रियलटी के द्वारा देख सकेगे खगोलीय घटनाक्रम को

ग्वालियर,पंचमहलकेसरीअखबार।आमजनोतकअंचल की घरोहरो की जानकारी पहुंचाने के उदेश्य से स्मार्ट सिटी द्वारा महाराज बाडे के पास बनाये गये डिजीटल संग्रहालय को सैलानियो द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है। अब इसके साथ ही जल्द ही इसी परिसर में बनने वाले तारामंडल का भी सैलानी लाभ ले सकेगे। तारामंडल का कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है और जल्द ही इसे आम लोगो के लिये खोल दिया जायेगा।स्मार्ट सिटी सीईओ श्रीमती जयति सिंह नें जानकारी देते हुये बताया कि महाराज बाडा स्थित गोऱखी परिसर में बने डिजीटल संग्रहालय के साथ ही अब शहरवासी जल्द ही आकाशगंगा की सैर कर सकेगे। संग्रहालय में तारामंडल को बनाने का कार्य पूर्ण हो चुका है और जल्द ही इसमे मुख्य प्रोजेक्टर को लगाकर तारामंडल को शहरवासियो के लिये खोल दिया जायेगा। इस तारामंडल में प्रोजेक्टर के माध्यम से तारामंडल को दिखाया जाएगा और उसमे भ्रमण करने वाले गृहों की जानकारी भी दी जायेगी। जहाँ पर शहरवासी आकाश गंगा के बारे में जानेगे। तारामंडल के माध्यम से शहरवासी खगोलीय घटनाक्रम को डिजीटल फार्म में देखने के साथ साथ उनके बारे में विस्तृत जानकारी भी ले सकेंगे। श्रीमती सिंह नें जानकारी देते हुये बताया कि इस तारामंडल में मुख्य भाग के साथ विभिन्न गैलरिया भी बनाई गई है, जिनके द्वारा यहाँ आने वाले सैलानियो को अंतरिक्ष और खगोलीय शास्त्र और इससे जुडे साइंटिस्टो के बारे में विस्तार से डिजीटल फाँर्म में जानने औऱ समझने का भी मौका मिलेगा।  श्रीमती सिंह नें बताया कि इस तारामंडल को ग्वालियर के पर्यटन मानचित्र में एक अहम बिंदु के रूप में माना जा रहा है। ग्वालियर संभाग व बुंदेलखंड क्षेत्र में यह अपनी तरह का पहला तारामंडल होगा तथा स्कूल के छात्रों को शिक्षित करने में भी अपनी मह्त्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।तारामंडल में 5 कक्षो के माध्यम से सैलानी अंतरिक्ष औऱ इससे जुडी हर जानकारी को देख-जान सकेगे।
1. ब्रहमांड और सौरमंडल गैलरी – इस गैलरी में ब्रहमांड के सृजन से लेकर वर्तमान खगोलीय स्थिती को विस्तृत रुप से दर्शाया गया है।
2. इसरो (इंडियन स्पेश रिसर्च आर्गेनाइजेशन) गैलरी – इस गैलरी में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संघटन द्वारा किये गये कार्यो व अनुसंधानो का विवरण दिया गया है। साथ ही इसरो संस्थान की प्रमुख उपलब्धियो को भी डिजीटल माध्यम से दर्शाया गया है।
3. हाँल आँफ फेम गैलरी – इस गैलरी में अंतरिक्ष विज्ञान के क्षेत्र में महत्वपूर्ण योगदान देने वाले वैज्ञानिको के बारे में विस्तार से बताया गया है।
4. अंतर्राष्ट्रीय स्पेस गैलरी – इस गैलरी में वेश्विक स्तर पर किये जा रहे विभिन्न अनुसंधान, कार्य तथा मिशन इत्यादी के बारे में जानकारी प्रदान की गई है इसके अलावा अंर्तराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन से संबंधित जानकारी को विस्तार पूर्वक दर्शाया गया है।
5. अंतरिक्ष विज्ञान में भारतीय योगदान गैलरी – इस गैलरी में नक्षत्र, प्राचीन अंतरिक्ष खगोलशास्त्र के भारतीय योगदान और महत्व के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।
टिप्पणियाँ
Popular posts
डबरा।सात दिन की कठोर मेहनत बाद शहर में हुई 35लाख रुपए की लूट का पर्दाफाश क्षेत्रीय विधायक सुरेश राजे ने पुलिस अधिकारियों एवं पुलिस प्रशासन को दी बधाई शुभकामनाएं ।
चित्र
डबरा। कांग्रेस पार्टी ने संविधान दिवस मनाया ,भारतीय संविधान सुरक्षित है तो लोकतंत्र सुरक्षित -घनश्यामभार्गव
चित्र
डबरा।35 लाख रूपये के लूट को लेकर एसडीएम वह एडिसन एसपीश्री कुवेर को लूटते चोरो को अतिशीघ्र पकड़ने के लिए, कांग्रेस पदाधिकारियों ने सौंपा ज्ञापन।
चित्र
नई दिल्ली। (पंचमहलकेसरी अखबार 9425734503)अखिल भारतीय कुशवाह क्षत्रिय महासभा ने डॉक्टर विंग की बिहार प्रदेश प्रभारी डॉ रूबी सिंह बनाया मित्रगणों ने दी बधाई।
चित्र
भीम आर्मी नि शुल्क पाठशाला के तत्वावधान में रेली निकालकर मनाई बहुजन नायक कांशीराम साहब जी की 88 वी जंयती।
चित्र