दिल्ली। कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह कितना लंबा रहता है, क्रूर शेर अंततः बुरी तरह मर जाता है। लेखक आईपीएस अधिकारी म.प्र.
 कोई फर्क नहीं पड़ता कि यह कितना लंबा रहता है, क्रूर शेर अंततः बुरी तरह मर जाता है।
        यही दुनिया है।
    बड़ी बिल्लियाँ, हालांकि शक्तिशाली और डरावनी दिखाई देती हैं, लेकिन वे समान रूप से कमजोर होती हैं, कुछ ही अपने गौरव की रक्षा करते हुए चोटों से मर जाती हैं।  मरते-मरते रह जाते हैं, आयु से दुर्बल हो जाते हैं।
      अपने शिकार करियर के अपने चरम पर, वे शासन करते हैं, शक्तिशाली अन्य डरे हुए जानवरों को देते हैं, उन्हें पकड़ते हैं, खा जाते हैं, निगलते हैं और फिर हाइना और अन्य मैला ढोने वालों के लिए अपनी अंतड़ियों और टुकड़ों को छोड़ देते हैं, जितनी जल्दी या बाद में उम्र पकड़ लेती है, बल्कि यह तेजी से आता है।
तब बूढ़ा शेर शिकार नहीं कर सकता, न मार सकता है और न ही अपना बचाव कर सकता है।  यह घूमता है और दहाड़ता है, दहाड़ता हुआ खोखला होता है, जब तक कि यह भाग्य से बाहर नहीं हो जाता।  अंत में वह लकड़बग्घे द्वारा घेर लिया जाता है, उन्हें कुतर दिया जाता है और उनके द्वारा जीवित खा लिया जाता है।  वे इसे मरने भी नहीं देंगे, इससे पहले कि यह अंग-अंगों से अलग-अलग हो जाए।
 कहानी का मनोबल-
    जिंदगी छोटी है।  शक्ति क्षणभंगुर है।  मैंने इसे शेरों में देखा है।  मैंने इसे पुराने लोगों में देखा है, तथाकथित पूर्व-शक्तिशाली, और इसी तरह। हर कोई जो लंबे समय तक रहता है वह किसी न किसी बिंदु पर बहुत कमजोर हो जाएगा।  इसलिए आइए हम विनम्र और दयालु बनें। बीमारों, कमजोरों, कमजोरों की मदद करें और सबसे महत्वपूर्ण बात यह कभी न भूलें कि हम सभी को एक दिन मंच छोड़ना है।
   "चंद लम्हों का खेल"
        'भोर की तरैया'
 "पानी केरा बुदबुदा"
लेखक माननीय श्री राजाबाबू सिंह आईपीएस अधिकारी मध्य प्रदेश
टिप्पणियाँ
Popular posts
अनमोल विचार और सकारात्मक सोच, हिन्दू और बौद्ध विचार धाराओं से मिलते झूलते हैं।.गुरु घासीदास महाराज जयंती पर विशेष
चित्र
भितरवार। (राजकुमार श्रीवास्तव)प्रशासन ने एक करोड़ की सरकारी भूमि कराई अतिक्रमण से मुक्त ।35 बीघा सरकारी भूमि में खड़ी गेहूं की फसल को काट कर किया गया जप्त।
चित्र
भितरवार । पटवारी ने किया गृहमंत्री जी के लिए गलत शब्द का प्रयोग मेघासिह ने की गृहमंत्री से पटवारी की शिकायत।
चित्र
डबरा। हर्सोल्लास के साथ मनाया गया 75 वे गणतंत्र दिवस पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों की दी गई प्रस्तुतियां, झंडा फहराया गया मुख्यमंत्री का संदेश वचन एसडीएम ने सुनाया
चित्र
दतिया।प्राकृतिक आपदा अति वर्षा से जिले के किसानों की नष्ट हुई फसलो का मुआवजा राहत राशि दिलाने कांग्रेस ने मुख्यमंत्री के नाम एडीएम को सौपा ज्ञापन।
चित्र