ग्वालियर।मृतकों की गरिमा, सम्मान एवं अधिकारों को ध्यान में रखकर मीडिया खबरें प्रसारित करेराष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग ने जारी की है एडवायजरी


ग्वालियर।मृत व्यक्तियों की गरिमा, सम्मान एवं अधिकारों की रक्षा को लेकर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग द्वारा विस्तृत एडवायजरी जारी की गई है। यह एडवायजरी आयोग की वेबसाइट www.nhrc.nic.in पर देखी जा सकती है। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा सोशल मीडिया सहित प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया मृत व्यक्ति की सुस्पष्ट तस्वीर व वीडियो इत्यादि को प्रदर्शित करने से बचने की अपील की है, जिससे मृत व्यक्ति की निजता व गरिमा की रक्षा हो सके।अपर जिला न्यायाधीश एवं सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री गालिब रसूल ने बताया कि संविधान के अनुच्छेद 21 के अंतर्गत हर नागरिक को जीवन का अधिकार है। व्यक्ति का केवल जीवित रहना ही इसका आशय नहीं है, इसका अर्थ सार्थक जीवन जीने से है। साथ ही यह अधिकार मृत व्यक्ति की गरिमा तथा उसके अधिकारों की रक्षा तक विस्तारित है। अज्ञात व्यक्ति को उसके धर्म व रीति रिवाजों के अनुसार उचित अंतिम क्रियाकर्म का अधिकार भी होता है।मीडिया से अपेक्षा की गई है कि मृत व्यक्ति के प्रति ऐसी अपमानजनक टिप्पणी को प्रकाशित नहीं करना चाहिए, जिससे मृत व्यक्ति की गरिमा को ठेस पहुँचती हो
टिप्पणियाँ
Popular posts
भितरवार (रामकुमार श्रीवास्तव संवाददाता)दो नाबालिग बच्चों को खेलते खेलते मिला खजाना, छीन ले गई महिला पुलिस को दी जानकारी पुरातत्व विभाग करेगा जांच।
चित्र
ग्वालियर।स्टाफ नर्सों की बड़े पैमाने पर भर्ती घोटाले की जांच एवं डीन पर एससी-एसटी एक्ट की कार्यवाही करने की मांग को लेकर संभागीय आयुक्त ग्वालियर को अजाक्स संघ ने दिया ज्ञापन ।
चित्र
दिल्ली।(एम एस बिशौटिया /रामकुमार श्रीवास्तव)दिल्ली पहुँची अपर्णा यादव, जेपी नड्डा और सीएम योगी आज दिलाएंगे सदस्यता भाजपा की सदस्यता चुनाव मैदान में उतरेंगे।
चित्र
मध्यप्रदेश हाईकोर्ट बेंच ग्वालियर का बड़ा फैसला- पॉलिटेक्निक कॉलेजों में लेक्चरर-प्रोफेसरों की गेट 2020 एग्जाम से नियमित भर्ती विज्ञापन एवं भर्ती संबंधित नियम मध्यप्रदेश राजपत्र पर भी रोक लगाई।
चित्र
डबरा।शासकीय धनराशि का दुरूपयोग भारी पड़ा, दो पूर्व सरपंच जायेंगे जेल।
चित्र